उत्तर प्रदेश कुशीनगर क्राइम राज्य

कुशीनगर :: दर्जनों की संख्या में पहुचे शस्त्र बदमाशों ने मंदिर में की लूटपाट,पुजारी को मारा चाकू

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  1. सुनील कुमार तिवारी /आदित्य प्रकाश श्रीवास्तवkknews24.कुशीनगर।पडरौना कोतवाली थाना क्षेत्र के ग्राम लमुहा शिव मंदिर पर बीती रात सशस्त्र बदमाशों ने हमला बोल पुजारी के ऊपर चाकू से प्रहार पर लहूलुहान कर दिया तथा वहां एक दूसरे पुजारी गोसाई तथा उनकी पत्नी व साफ सफाई करने वाली एक युवक को जमकर पिटाई करने के बाद कान का बाला ,मंगल सूत्र सहित अन्य समान लूट लिए और जान मारने की धमकी देते हुए फरार हो गये। बताया जाता है कि वह धर्मशाला की चाबी मांग रहे थे जिसमें लाखों रुपया का सामान रखा हुआ है ।घटना की सूचना पर पहुंची 100 नंबर पुलिस व ग्रामीणों के सहयोग से घायल को अस्पताल ले गए। इस मामले में कमेटी के लोगों सहित घायलों ने पुलिस को प्रार्थना पत्र सौंप कार्रवाई का मांग किया है। यह भी बताया जा रहा है कि सभी बदमाश हाफ कच्छा व बनियान पहने हुए थे ।सूचना मिलते ही सीओ व कोतवाल मंदिर पहुंच जांच पड़ताल किया।

घटना के बावत मिली जानकारी के अनुसार उक्त मंदिर पर रामकोला थाना के बरवा बाजार निवासी नन्दलाल गोसाई व उनकी पत्नी तथा देवरिया पांडे निवासी नंद लाल यादव संयुक्त रूप से मंदिर में पूजा पाठ करने का काम करते हैं, वही चंद्रशेखर प्रसाद निवासी देवरिया पांडे जो मंदिर की सफाई करता है ।चारों लोग रोज की भांति मंदिर पर सोए हुए थे की रात लगभग एक बजे 8 से 10 की संख्या में हथियार से लैश पहुंचे बदमाशों ने चंद्रशेखर से वहां के धर्मशाला की चाबी मांगी चंद्रशेखर ने चाबी कमेटी के पास रहने की बात कही जिसपर उसकी जमकर पिटाई कर दी शोर सुन तब तक नंदलाल और गोसाई नींद खुल गई और वह शोर मचाने का प्रयास किया कि नंदलाल ऊपर चाकू से हमला बोल दिया ,संयोग ठीक रहा की चाकू उनके हाथ में लगा और वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर गए। बदमाशों ने गोसाई की पत्नी शादी और सोने की चैन कान का बाला  ले लिए, इन लोगों की चीखने चिल्लाने की आवाज पहुंचे ग्रामीणों सहित कमेटी के लोगों ने इसकी सूचना 100 नंबर पुलिस को दी ।मौके पर पहुंची पुलिस ने जायजा लेने के उपरांत घायल को इलाज के लिए अस्पताल ले गए जहां उसका इलाज चल रहा है । पीड़ित पक्ष ने पुलिस को अज्ञात के खिलाफ तहरीर सौंप दिया है ।इस घटना की सूचना मिलते ही पहुंचे सीओ सदर नितेश प्रताप सिंह व कोतवाल मिथिलेश राय ने मंदिर परिषद पहुंच गए जांच पड़ताल किया तथा लोगों से पूछताछ की।

About the author

Aditya Prakash Srivastva