उत्तर प्रदेश कुशीनगर क्राइम

कुशीनगरःःबन्द पड़ी चीनी मिल को चालू कराने की मांग को लेकर भाकियू (भानु) का आन्दोलन 35 वें दिन रहा जारी

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

डेस्क.कुशीनगर। भारतीय किसान यूनियन (भानु) की जिला इकाई, कुशीनगर के जिलाध्यक्ष रामचन्द्र सिंह द्वारा लक्ष्मीगंज बन्द चीनी मील को चलवाने के लिये धरना प्रदर्शन का आज 35वां दिन है| आज के धरना प्रदर्शन की अध्यक्षता हरी और संचालन प्रभु भारती द्वारा किया गया|
बताते चले लक्ष्मीगंज बन्द चीनी मील को चलवाने के लिये यूनियन के जिलाध्यक्ष श्री सिंह द्वारा इसके पूर्व 61 दिन लगातार धरना प्रदर्शन किया गया था और आज धरना प्रदर्शन का 35वां दिन है| आज के धरना प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुए श्री सिंह ने बताया की लक्ष्मीगंज बन्द चीनी मील को चलवाने के लिये किसान आन्दोलित है और सूबे की सरकार कान में तेल डालकर सो चुकी है यदि ऐसा नही होता तो योगी सरकार के कोई जिम्मेदार मन्त्री या कोई अन्य जिम्मेदार ब्यक्ति चीनी मील गेट पर आते और चीनी मील को चलवाने के लिये किसान आन्दोलित है उस विषय पर वार्ता करते| आगे श्री सिंह ने बताया की लोकसभा चुनाव के समय बीजेपी सरकार किसानों को भ्रमित करके और किसान सम्मान निधि का लालीपाप देकर अपने पक्ष में चुनाव कर लिये मगर योगी सरकार यदि 2022 का विधानसभा चुनाव जितना है तो लक्ष्मीगंज बन्द चीनी मील को चलवाने के लिये अबिलम्ब घोषणा करे अन्यथा आने वाले किसी भी चुनाव में बीजेपी को इस परिक्षेत्र के किसान/जनता सबक सिखाने के लिये तैयार बैठी है| अन्त में यूनियन के जिलाध्यक्ष श्री सिंह ने बताया की ज्यो ही मौसम का मिजाज ठीक होता है त्योंहि हम अपने धरना प्रदर्शन के स्वरूप को इस तरह बदल देंगें की योगी सरकार में हडकंप मच जाएगा और उन्हें मजबूर होकर लक्ष्मीगंज बन्द चीनी को चलवाने के लिये घोषणा करना पड़ेगा| इस मौके पर रामनरायन यादव,बबलू खान, मोहफिल अंसारी, चाँदबली, ढोढा प्रसाद, रामई गौड, रीता देवी, अबरार अंसारी, सरल मियां, जुलेखा खातून, मैना देवी, बुधिया देवी, तैबून नेशा, कैलाश, रामऔतार, छेदी राजभर, कैलाश पासवान, बासमती देवी, चंपा देवी, सरासून नेशा, सोनमती देवी, रजला देवी, यशोदा देवी, मुताबिक नेशा, आलमीन नेशा, भुवाल गोविन्द राव, रामअधार यादव, शम्भू यादव, बासमती देवी, ठगई प्रसाद, हनीफ, के साथ साथ अन्य किसान बन्धु मौजूद रहे|

About the author

Aditya Prakash Srivastva

Leave a Comment