बेतिया : 109 करोड़ से होगा बरवत प्रसराईन कलस्टर में आधारभूत संरचनाओं का विकास

Spread the love

विजय कुमार शर्मा, कुशीनगर केसरी बेतिया, बिहार(२४ अक्टूबर)। बेतिया प्रखंड के बरवत प्रसराईन कलस्टर पंचायत में आधारभूत संरचनाओं का विकास करने हेतु प्रशासनिक कार्रवाई तेज कर दी गयी है। बरवत प्रसराईन कलस्टर में कुल चार पंचायतें हैं जिसमें बरवत प्रसराईन, बरवत सेना, गोनौली एवं बानूछापर पंचायतें शामिल हैं। बरवत प्रसराईन कलस्टर में आधारभूत संरचनाओं के विकास हेतु आइ.सी.ए.पी. योजना के तहत कुल 108.51 करोड़ रू0 खर्च किये जायेंगे। इन पंचायतों में संपूर्ण स्वच्छता, शुद्ध पानी हेतु नल का जल, सड़क संपर्क, स्वास्थ्य केन्द्र, शैक्षणिक केन्द्र, एलपीजी कनेक्शन, पब्लिक ट्रांसपोर्ट, स्ट्रीट लाइट, पक्की गली-नाली, ठोस तरल कचरे का प्रबंधन, डिजिटल साक्षरता, कृषि उत्पादों का प्रसंस्करण आदि जैसे कार्यों को उच्च प्राथमिकता देकर पूरा की जायेगी।
जिला पदाधिकारी, डाॅ0 निलेश रामचंद्र देवरे ने कलस्टर पंचायतों के सभी मुखिया को पंचायतस्तर पर योजनाओं का शीघ्र क्रियान्वयन शुरू करने हेतु निदेश दिया गया है। वहीं चयनित पंचायतों के सभी गांव/टोलों में सड़क संपर्क सुदृढ़ करने हेतु कार्यपालक अभियंता, ग्रामीण कार्य प्रमंडल, बेतिया को निदेश दिया गया है।
जिलाधिकारी की अध्यक्षता में रूर्बन मिशन के अंतर्गत आइ.सी.ए.पी. योजना के तहत चयनित कलस्टर बरवत प्रसराईन में समग्र बुनियादी सुविधाओं को विकसित करने हेतु कार्ययोजना बनाने एवं इसका क्रियान्वयन कराने हेतु समाहरणालय सभागार में एक बैठक आहूत की गयी।
इस बैठक में ग्रामीण विकास मिशन, बिहार के ओएसडी के द्वारा पाॅवर प्वाइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से इस योजना के रूपरेखा के बारे में विस्तार से बताया गया। उन्होंने बताया कि रूर्बन मिशन के अंतर्गत आइसीएपी योजना के तहत बिहार राज्य के 20 उच्च अनुसूचित जनजातीय अनुमंडलों में एक-एक कलस्टर पंचायत का चयन कर वहां शहर जैसी आधारभूत संरचनाओं का विकास किया जायेगा। इस योजना के तहत बेतिया प्रखंड के बरवत प्रसराईन पंचायत को एक कलस्टर बनाया गया है। इस कलस्टर में कुल 4 पंचायतों को शामिल गया है।
जिलाधिकारी द्वारा जिला शिक्षा पदाधिकारी को सभी पंचायतों का सर्वेक्षण कर शैक्षणिक व्यवस्था सुदृढ़ करने हेतु प्रस्ताव देने का निदेश दिया गया है। सभी स्कूलों में चहारदीवारी, शौचालय एवं पीने का पानी, खेल मैदान का विकास आदि कार्यों को उच्च प्राथमिकता दिया जायेगा। बरवत सेना में एक एपीएचसी का निर्माण हेतु जमीन चिन्हित करने हेतु निदेश दिया गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि आइसीएपी योजना के तहत बरवत प्रसराईन कलस्टर पंचायत को पूर्ण उन्नत एवं समृढ़ किया जायेगा। इन पंचायतों में सभी आवश्यक बुनियादी सुविधाओं का विकास किया जायेगा। सभी गांवों को पक्की सड़कों से जोड़ा जायेगा। गांवों में पक्की गली-नाली का निर्माण कार्य पहले से ही चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आइसीएपी योजना के तहत सभी चयनित गांवों में स्ट्रीट लाइट लगाया जायेगा। इन चयनित गांवों में सामुदायिक शौचालय का निर्माण कार्य भी कार्ययोजना में शामिल किया गया है।
उन्होंने कहा कि जिलास्तर से जो कार्य किये जाने है वह कार्य बिना समय गंवाये प्रारंभ कर दिया जाय। उप विकास आयुक्त्त, पश्चिम चम्पारण को सभी कार्र्याें का नियमित अनुश्रवण करने हेतु कहा गया है।
इस बैठक में डीएम, डीडीसी, श्री रवीन्द्रनाथ सिंह, प्रशिक्षु सहायक समाहत्र्ता, श्री आरीफ अहसन, ग्रामीण विकास विकास के ओएसडी, श्री अनुराग कौशल, सिविल सर्जन, डाॅ0 के.के. राय, निदेशक, डीआरडीए, श्री राजेश कुमार, डीपीआरओ-सह-ओएसडी, श्री सुशील कुमार शर्मा, कल्याण पदाधिकारी, योजना पदाधिकारी, डीपीओ, सर्वशिक्षा, जिला परिवहन पदाधिकारी, कार्यपालक अभियंता, ग्रामीण कार्य प्रमंडल, बेतिया/विद्युत आपूर्ति पदाधिकारी, डीपीएम, जीविका, एलडीएम, बीडीओ, बेतिया सहित सभी चयनित पंचायतों के ग्राम पंचायत मुखिया आदि सम्मिलित हुए।

You may have missed