उत्तर प्रदेश मिर्जापुर राजनीति राज्य

मिर्जापुर :: जनकल्याणकारी योजनाओं के वितरण व कैंप की जानकारी जनप्रतिनिधियों को भी दी जाए, दिशा की बैठक में सांसद ने दिए निर्देश

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अन्नपूर्णा श्रीवास्तव, मिर्जापुर। सांसद अनुप्रिया पटेल के अध्यक्षता में जिला पंचायत सभागार में जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति दिशा की बैठक आयोजित की गई। बैठक में विधायक छानवे राहुल प्रकाश कोल, जिला अधिकारी सुशील कुमार पटेल, पुलिस अधीक्षक डॉ धर्मवीर सिंह, मुख्य विकास अधिकारी प्रियंका निरंजन, मुख्य चिकित्सा अधिकारी के अलावा सभी संबंधित अधिकारी व सदस्यगण उपस्थित रहे।

बैठक में विभिन्न योजनाओं की प्रगति की समीक्षा के दौरान सांसद श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जनकल्याणकारी व लाभार्थी परियोजनाओं में पात्र लाभार्थियों के चयन व वितरण रोस्टर्ड बनाकर कैंप लगाकर किया जाए तथा उसकी जानकारी संबंधित जनप्रतिनिधि को दिया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि जनपद ऐसे निर्माण कार्यों को जो पूर्ण हो चुके हैं उसका लोकार्पण करा कर जनता के सदुपयोग के लिए समर्पित किया जाए। बैठक में उपस्थित सदस्य हरिशंकर सिंह के द्वारा नहरों के कुलवों की सफाई की मांग उठाई गई जिस पर सांसद द्वारा मुख्य विकास अधिकारी व संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि इस संबंध में शासन के मार्गदर्शन प्राप्त करते हुए कार्यवाही की जाए। बैठक में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका की समीक्षा के दौरान बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में एनआरएलएमम के अंतर्गत कुल 2027 समूहों का गठन किया गया है। जिसमें दिसंबर माह 2019 तक कुल 1447 समूहों के रिवाल्विंग फंड की धनराशि निर्गत किया गया है तथा 813 समूहों को सामुदायिक निवेश निधि के तहत धनराशि निर्गत की जा चुकी है मनरेगा के तहत बताया गया कि वित्तीय वर्ष 2019 में कुल 29.705 लाख मानव सृजन का लक्ष्य है। जिसके सापेक्ष 28.200 मानव दिवस सृजित किया गया है तो मां शांत का 94.93 प्रतिशत है। इस वित्तीय वर्ष में कुल 65383 परिवारों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है जिसमें 587 परिवारों को 100 दिन का रोजगार प्राप्त हो चुका है। राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम के अंतर्गत बताया गया कि वर्तमान में कुल 90324 लोगों को योजना से लाभान्वित किया जा रहा है। जिसमें प्रथम और द्वितीय किश्त की धनराशि पेंशनरों के बैंक खाते में प्रेषित की गई है तथा अवशेष 7770 पेंशनरों की पेंशन की धनराशि मुख्यालय द्वारा प्रेषित करने की कार्यवाही की जा रही है। वहीं सांसद ने कहा कि पेंशन के लिए ग्रामसभावार कैंप लगाकर नए पेंशनरों का चयन किया जाए ताकि जो पात्र लाभार्थी छूटे हैं उन्हें भी योजना से लाभान्वित किया जा सके।

विधायक छानवे राहुल प्रकाश ने कहा कि ग्राम खटकरिया में कैंप लगाकर पात्र व्यक्तियों का चयन किया जाए। प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण के लाभार्थियों की सूची ग्राम पंचायतों में सर्वाधिक स्थलों पर वॉल पेंटिंग कराने को कहा गया तथा योजना का प्रचार-प्रसार भी कराया जाए। सांसद द्वारा सदस्यों की शिकायत पर की आवास आवंटन में अनियमितता व भ्रष्टाचार में संलिप्तता पाए जाने वाले लोगों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई किए जाने का निर्देश दिया गया। राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना के तहत बताया गया कि 49 योजनाएं ग्राम पंचायतों को हस्तगत है उनका मरम्मत भी ग्राम के द्वारा ही कराया जाना है। सांसद द्वारा सांसद आदर्श ग्राम ददरी में पेयजल परियोजनाओं के संबंध में कहा कि यदि पूर्ण हो गया हो तो उस का लोकार्पण कराया जाए। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण व शहरी की समीक्षा की गई। इस अवसर पर सदस्यों के द्वारा बाणसागर परियोजना से भी अभी तक टेल तक पानी न पहुंचने की शिकायत की गई। जिसके बारे में संबंधित अधिकारी को विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया। दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत ट्रांसफार्मरों को किसानों के द्वारा ले जाने की चर्चा पर कहा गया कि अधिशासी अभियंता वर्कशॉप के द्वारा रिपोर्ट प्राप्त कर अवगत कराया जाए साथ हींं यह भी कहा गया कि विद्यालयों के ऊपर से जा रहे विद्युत तारों को तत्काल कार्रवाई करते हुए हटाया जाए। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत बाढ़ में प्रभावित किसानों के बीमा के बारे में जानकारी की गई। जिसमें बताया गया कि अभी तक लगभग ढाई लाख किसानों को बीमा की राशि प्रदान की गई है। शेष को भी अविलंब लाभान्वित करने की प्रक्रिया चल रही है। किसानों को इसमें प्रचार प्रसार कर जागरूकता करने का भी निर्देश दिया गया। बैठक में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, सर्व शिक्षा अभियान, समेकित बाल विकास योजना, मिड डे मील, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना सहित सभी बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गई। इस दौरान सांसद के द्वारा उज्वला योजना व कौशल विकास योजना के लाभार्थियों को चयन करने संबंधित कैंप लगाने का तथा उसकी सूचना जनप्रतिनिधि को देने का निर्देश दिया गया। दिशा की बैठक का संचालन जिला अधिकारी सुशील कुमार पटेल द्वारा करते हुए सांसद व सदस्यगणों को आश्वस्त किया गया कि बैठक में उठाये गए प्रत्येक बिंदुओं का अक्षरश: पालन सुनिश्चित कराया जाएगा। इस अवसर पर परियोजना निदेशक ऋषिमुनि उपाध्याय, जिला पूर्ति अधिकारी उमेश चंद्र, जिला विकास अधिकारी ए.एन. मिश्र, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग, सिंचाई व जल निगम के अधिकारी उपस्थित रहे।

About the author

Aditya Prakash Srivastva