उत्तर प्रदेश कुशीनगर राजनीति

कुशीनगरःःभाकियू नेता रामचन्द्र सिंह बोले ,किसानों के साथ सौतेला ब्यवहार कर रहीं प्रदेश सरकार

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 

डेस्क.कुशीनगर। भारतीय किसान यूनियन (भानु) की जिला इकाई, कुशीनगर के जिलाध्यक्ष रामचन्द्र सिंह द्वारा प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से बताया गया है कि वैसे राज्य की योगी सरकार किसानों की आय दोगुनी करने का दम भरने का ढिढोरा पिटते हुए नजर आ रही है मगर हकीकत में ऐसा कुछ धरातल पर दिख नही रहा है| किसान अपने खून पसीने की कमाई का रुपया गन्ना बोने में लगा देता है और जब एक साल बाद गन्ना तैयार होता है तो किसान अपने गन्ने को चीनी मीलों तक ले जाने में खून की आँसू बहाने को मजबूर हो जाता है| किसानों के पर्ची की समस्या से निजात दिलाने में शासन प्रशासन दोनों तंत्र सिर्फ मूकदर्शक बन कर तमाशा देख रहे है जो आने वाले समय में सरकार के लिये शुभ संकेत नही है|
बताते चले यूनियन के जिलाध्यक्ष श्री सिंह द्वारा लगातार किसानों के पर्ची की समस्या को लेकर जिला प्रशासन से लेकर राज्य सरकार को बताया जा रहा है कि जनपद कुशीनगर के किसान गन्ना पर्च्री के समस्या से निरन्तर जूझ रहे है मगर इनके समस्याओं को सुलझाने के लिये जिला प्रशासन या राज्य सरकार बिल्कुल ध्यान नही दे रही है| जनपद के लक्ष्मीगंज गन्ना समिति और कप्तानगंज गन्ना समिति में गन्ना माफियाओं का इतना पैठ जम गया है कि जिनके पास एक भी डिसमिल गन्ना नही है उनका पड़ताल हो गया है और उनकी पर्ची समय से आ रही है और जिनका वास्तव में बोया गया है उनके नाम से आजतक एक भी पर्ची नही आया है और वही गन्ना माफियाओं की चांदी कट रही है जो दुर्भाग्यपूर्ण के साथ साथ चिंताजनक भी है| इसकी जाँच कराई जाय| पिछले साल भी किसानों का गन्ना पर्ची समय से नही मिलने के वजह से खेतों में ही सुख गया था लग रहा है कि यही हाल इन साल भी होने वाला है| यूनियन के जिलाध्यक्ष श्री सिंह ने बताया है की यदि सम्बन्धित अधिकारी जनपद के किसानों के पर्च्री की समस्या को सुलझाने में जल्द से जल्द कोई ठोस कदम नही उठाते है या हिला हवाली करते है तो वह दिन दूर नही जब हमे मजबूर होकर किसानों की हक की लडाई के लिये चक्का जाम करने जैसे कार्य न करना पड़े यदि ऐसा हुआ तो उसकी पूरी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी|

About the author

Aditya Prakash Srivastva