पटना बिहार राज्य

पटना :: बिहार की दिनभर की मुख्य खबर एक नजर में एकसाथ

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

विजय कुमार शर्मा, बिहार (23 जनवरी २०२०) की रिपोर्ट……

पुलिस ने गुप्त सूचना पर अपराध की योजना बनाते तीन बदमाश को गिरफ्तार

सुपौल :: पुलिस ने गुप्त सूचना पर अपराध की योजना बनाते तीन बदमाश को गिरफ्तार। तलाशी में उनके पास से एक पिस्टल भी मिली। गिरफ्तार युवकों में मासूम आलम, रिजवान आलम और वशी आलम मधेपुरा सदर थाना क्षेत्र के मस्जिद चौक वार्ड 10 का रहने वाला है। पुलिस मामला दर्ज कर उनसे पूछताछ कर रही है।

बताया जा रहा है कि पुलिस को मंगलवार की रात करीब 10 बजे गुप्त सूचना मिली थी कि नुनुपट्टी के पास बदमाश जुटे हैं और कोई वारदात करने वाले हैं। सूचना पर सदर थानाध्यक्ष संदीप कुमार सिंह पुलिस बल के साथ वहां पहुंचे। पुलिस गाड़ी को देखते ही युवक इधर-उधर भागने लगे। पुलिस ने बुलेट सवार तीनों युवकों को पकड़ा। सदर थानाध्यक्ष के मुताबिक पूछताछ में बताया कि वे लोग पिस्टल खरीदने इधर आए थे। थानाध्यक्ष ने बताया कि पकड़े गए युवकों का आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है। सूत्रों की मानें तो जिले में बड़े पैमाने पर हथियार खरीद बिक्री का धंधा इन दिनों चल रहा है। इलाके में सक्रिय हथियार तस्कर युवाओं को पिछले एक महीने में करीब दो दर्जन से अधिक पिस्टल बेचा है। यहीं कारण है कि युवा अपराधियों की सक्रियता बढ़ी है जो पुलिस के लिए सिरदर्द बने हैं।

एसएनसीयू में गूंज रही नवजातों की किलकारियां, प्रति माह 150 से 200 शिशुओं को मिल रहा जीवनदान

• 90 प्रतिशत नवजातों का होता है सफल इलाज • 1 साल तक नवजात शिशुओं का होता है फोलोअप • एसएनसीयू वार्ड में उपलब्ध में है सभी उपकरण • प्राइवेट अस्पतालों में जन्मे नवजात को भी मिलती है जगह।

छपरा :: जिले की स्वास्थ्य सेवाएं अपनी बेहतरी की ओर बढ़ रही है। ऐसे में स्वस्थ समाज के निर्माण में भले ही कई चुनैतियां हों , लेकिन नवजातों की जिंदगी बचाने में स्वास्थ्य महकमे को खासी सफलता मिली है। नवजात बच्चों की बेहतर देखभाल एवं उनका समुचित इलाज के मकसद से सदर अस्पताल परिसर में खुला एसएनसीयू( सिक न्यू बोर्न केयर) नया जीवन देने में कारगर साबित हो रहा है। इस यूनिट में प्रतिमाह 150 से अधिक नवजात बच्चों का इलाज हो रहा है तथा उन्हें असमय काल के गाल में समाने से बचाया जा रहा है।
अस्पताल प्रबंधक राजेश्वर प्रसाद ने बताया एसएनसीयू वार्ड में प्रतिमाह 150 से 200 नवजात भर्ती किये जाते हैं। इनमें से 90 प्रतिशत से भी ज्यादा नवजातों का सफल इलाज होता है। एसएनसीयू वार्ड में 0 से 28 दिन तक के बच्चों को भर्ती किया जाता है। एसएनसीयू सेवा का लाभ सिर्फ अस्पताल में जन्म लेनेवाले नवजातों को ही नहीं मिल रहा है, अपितु सभी सरकारी व निजी शिशु रोग विशेषज्ञों द्वारा नवजातों को यहां रेफर किया जाता है। एसएनसीयू में 24 घंटे एक चिकित्सक के साथ कई एएनएम तैनात रहती हैं, जो इनफैंट के एडमिट होने के साथ ही उनकी सेवा में तत्परता से जुट जाते हैं।
ऐसे नवजात एसएनसीयू में होते हैं भर्ती :: • 1800 ग्राम या इससे कम वजन के नवजात  • गर्भावस्था के 34 सप्ताह से पूर्व जन्में बच्चे  • जन्म के समय गंभीर रोग से पीड़ित नवजात( जौंडिस या कोई अन्य गंभीर रोग) • जन्म के समय नवजात को गंभीर श्वसन समस्या( बर्थ एस्फ्यक्सिया) • हाइपोथर्मिया  • नवजात में रक्तस्त्राव का होना  • जन्म से ही नवजात को कोई डिफेक्टस होना।   ये आधुनिक उपकरण हैं उपलब्ध ::  • रेडियंट वार्मर • फोटोथेरेपी-2 • सिरिंज पाइंप- 10 • पल्स ऑक्सीजन मीटर-7 • ऑक्सीजन कंसनटेटर-7 • सी-लैप मशीन • फूल एयर कंडिशन वार्ड।
सिविल सर्जन डॉ माधवेश्वर झा ने कहा एसएनसीयू में कुल 12 बेड लगाये गए हैं. साथ ही एसएनसीयू में विशेषज्ञ चिकित्सक सहित कुल 3 चिकित्सक, 9 स्टाफ नर्स एवं 3 गार्ड नियुक्त गए हैं. सर्वाधिक नवजातों की मौत का एक प्रमुख कारण बर्थ एस्फिक्सिया होता है। जन्म का पहला घंटा नवजात के लिए महत्वपूर्ण होता है। जन्म के समय ऑक्सीजन की कमी से दम घुटने से बच्चे को गंभीर स्वास्थ्य समस्या हो सकती है। गंभीर हालातों में बच्चे की जान भी जा सकती है। जिसे चिकित्सकीय भाषा में बर्थ एस्फिक्सिया कहा जाता है। इसके अलावा मौत के प्रमुख कारणों में जन्म के समय नवजात में गंभीर संक्रमण, जौंडिस एवं अन्य गंभीर रोग शामिल है. इस लिहाज से एसएनसीयू नवजातों के लिए संजीवनी साबित हो रही है।  एसएनसीयू से घर गए नवजात शिशुओं को फोलोअप के लिए भी बुलाया जाता है। 1 साल तक कुल 6 बार शिशुओं को फोलोअप के लिए बुलाया जाता है। फोलोअप के समय शिशु की जांच की जाती है व उनके माता-पिता को देखभाल की जानकारी दी जाती है। साथ ही अस्पताल से छूटते समय नवजात के माताओं को पोषण की जानकारी, साफ सफाई की जरूरतें इत्यादि की भी जानकारी दी जाती है।

शहाबुद्दीन अहमद, बेतिया प.चं. बिहार, की रिपोर्ट……

नगर के 18 बिजली बकायेदारों का बिजली कनेक्शन : एसडीओ

बेतिया :: नगर के 18 बिजली बकायेदारों का एनबीडी पीसीएल के द्वारा शखती करते हुए इनके बिजली काटने का आदेश निर्गत हुआ है, इस संदर्भ में बिजली विभाग के एसडीओ, धीरज कुमार सती ने संवाददाता को बताया कि नगर के कई मोहल्ले में उपभोक्ता बिजली तो जला रहे हैं लेकिन उसका बिल नहीं जमा कर रहे हैं, इससे बिजली विभाग के राजस्व को पूर्ति नहीं हो पा रही है, इसे देखते हुए बिजली विभाग द्वारा 500 बड़े बकायेदारों का बिजली कनेक्शन काटने का फैसला लिया गया है।
इस फैसले के अंतर्गत जिन बकायेदारों का बिजली काटा जाएगा उनमें लाल बाजार चौक के शत्रुघ्न कुमार, सत नारायण प्रसाद मोटा, रवि कुमार, मुन्ना कुमार व मोहम्मद अली हैं। हरीबतिक चौक के गौरी शंकर प्रसाद, उज्जवल राव, विद्या नाथ, शंकर ,सुनील पटेल ,अरुण कुमार, अरुण कुमार उपाध्याय हैं। बानु छापर के अंकित कुमार मिश्रा, ललिता देवी, आशीष कुमार श्रीवास्तव, रामानंद कुमार, आफताब अहमद हैं ।वहीं मनसा टोला के सनाउल्लाह हैं, सभी पर 25 हजार से ₹1 लाख का बिजली बिल बकाया है ,जो अदा नहीं कर रहे हैं ,इसी कारणवश इन लोगों के घर व दुकान का बिजली काट दिया जाएगा।।

सरकारी कर्मियों के प्रोन्नति पर 28 को होगा कोर्ट में सुनवाई

बेतिया :: राज्य सरकार के कर्मियों को अब 28 जनवरी तक उनकी प्रोन्नति पर सस्पेंस बरकरार है ।28 जनवरी को इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है, अधिकारियों से लेकर कर्मचारियों की तक की निगाह इस सुनवाई पर टिकी हुई है ,जब तक सुप्रीम कोर्ट इजाजत नहीं देता ,राजय सरकार प्रोन्नति देने का कोई आदेश जारी नहीं कर सकती है।
राज सरकार के अधीन नौकरियों में प्रोन्नति पर अप्रैल 2019 से रोक लगा दी गई है ,11 अप्रैल को राज्य सरकार की विभागीय प्रोन्नति समिति की बैठक पर रोक लगा दी गई थी ।पटना उच्च न्यायालय के फैसले के बाद यह आदेश जारी किया गया था, तब से प्रोन्नति बंद है ।डीपीसी की बैठकों पर रोक लगाने के बाद राज सरकार ने पटना उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर किया था, कोर्ट ने इस पर सुनवाई की और यथास्थिति बनाए रखने का आदेश जारी कर दिया ।सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सरकार चाहकर भी डीपीसी की बैठकों के आदेश को वापस नहीं ले सकती, अपने ही इस आदेश को हटाने की अनुमति मांगने ,बिहार सरकार दोबारा से सुप्रीम कोर्ट पहुंची है।
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बिहार सरकार के सभी वर्ग के कर्मचारियों ,शिक्षकों को उनकी प्रोन्नति पर लगी रोक हटाने का आदेश मिलने की संभावना व्यक्त की जा रही है ,इसके कारण राज्य सरकार के सभी संवर्ग के कर्मचारियों को प्रोन्नति से संबंधित लाभ मिलने से उनके वेतन भुगतान में बढ़ोतरी होने की संभावना बन जाएगी।

अज्ञात महिला का ट्रेन चपेट में आने से मौत, शिनाख्त करने में जुटी पुलिस

बेतिया :: बुधवार की संध्या बेतिया नरकटियागंज रेलखंड मैं बानु छापर पश्चिमी गुमटी से करीब 100 गज की पश्चिम एक 60 वर्षीय अज्ञात महिला का जख्मी होकर मौत! उक्त बातों की जानकारी देते हुए जीआरपी थानाध्यक्ष दिलीप कुमार पाठक ने बताया कि उक्त महिला शरीर पर जख्म देखने से ऐसा प्रतीत होता है कि उक्त महिला रेलवे गुमटी पार करने कोशिश की होगी जिससे ट्रेन में के चपेट में आने के दौरान इसकी मौत अज्ञात ट्रेन की चपेट में आने से हो गई है। शव को जीआरपी ने अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराकर सुरक्षित शवगृह में रखा हुआ है ।उक्त महिला की पहचान नहीं हो पाई है साथ ही ब्लू कलर का स्वेटर पहनी हुई है पीला, लाल कलर की साड़ी है और बाल उजला है। आगे श्री पाठक ने बताया कि इस महिला के पहचान के नहीं हो पाई है जिसके लिए नियरेस्ट थानों को सूचित की जा रही है।

1.88 करोड़ की लागत से बनेगी मोहर्रम चौक से गंडक चौक की डबल लेन रोड : गरिमा

बेतिया :: वर्षों से जर्जर मोहर्रम चौक से गंडक ऑफिस चौक की सड़क का जीर्णोद्धार होगा। नगर परिषद सभापति गरिमा देवी सिकारिया ने बताया कि 1.88 करोड़ की लागत से बनने वाली इस डबल लेन सड़क की ई-टेंडरिंग से जारी निविदा आगामी 8 फरवरी तक में निष्पादित कर दी जायेगी। उन्होंने बताया कि इस रोड के बन जाने से किशोर न्याय पीठ (न्यायालय), सीजीएम आवास परिसर में बने न्यायिक पदाधिकारियों के आवासीय परिसर, केदार पाण्डेय कन्या उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय, न्यू कॉलोनी, गंडक कार्यालय के साथ प्रखण्ड व अंचल कार्यालयों में पहुंचने में सुविधा होगी। इसके साथ ही कलेक्ट्रेट रोड में जाम की समस्या भी काफी हद तक कम होगी।

सीएए, एनआरसी, एनपीआर जैसे काले कानूनों के खिलाफ गणतंत्र दिवस के पूर्व 25 जनवरी को डेढ़ बजे दिन से ढाई बजे तक एक घण्टे का मानव श्रृंखला

बेतिया :: वामदलों की बैठक सीपीएम जिला कार्यालय मीना बाजार बेतिया में का.ओम प्रकाश क्रान्ति की अध्यक्षता में हुई। बैठक को सम्बोधित करते हुए सीपीएम जिला सचिव प्रभुराज नारायण राव ने कहा कि सीएए, एनआरसी, एनपीआर जैसे काले कानूनों के खिलाफ गणतंत्र दिवस के पूर्व 25 जनवरी को डेढ़ बजे दिन से ढाई बजे तक एक घण्टे का मानव श्रृंखला बनाया जायेगा। मानव श्रृंखला की शुरुआत तीन लालटेन चौक स्थित शहीद ए आजम भगत सिंह की प्रतिमा पे माल्यार्पण कर किया जायेगा । फिर बाबा साहब भीमराव अम्वेदकर की समाहरणालय स्थित प्रतिमा पर माल्यार्पण कर हरिवाटिका चौक स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा पर भी माल्यार्पण किया जायेगा ।भाकपा माले नेता सुनील कुमार ने कहा कि मानव श्रृंखला समाप्ति के बाद समाहरणालय पर भारतीय किसानों का घोर विरोधी ब्राजील के राष्ट्रपति बोलसोनारो का पुतला जलाया जायेगा और ब्राजील राष्ट्रपति भारत छोड़ो ,भारतीय किसानों का दुश्मन बोलसोनारो वापस जाओ । ब्राजील के राष्ट्रपति जो संयुक्त राष्ट्रसंघ में भारतीय किसानों को किसी प्रकार का अनुदान नहीं देने का प्रस्ताव किया है । वैसे किसान विरोधी राष्ट्रपति को गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि बनाना भारत का अपमान है ।
बैठक में माकपा के विजय नाथ तिवारी ,बिनोद कुमार नरुला ,नीरज बरनवाल , बशिष्ठ राय ,भाकपा के राधा मोहन यादव ,बबलू कुमार दुबे , योगेन्द्र बाबू ,भाकपा माले के रविन्द्र कुमार रबी आदि ने भाग लिया

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस ने बेतिया की धरती से अंग्रेजों के खिलाफ बिगुल फूंका था

बेतिया :: सन् 1939 में ऐतिहासिक बड़ा रमना मैदान में हजारों की संख्या में आए क्रांतिकारियों में क्रांति की अलख जगायी थी। नेताजी बेतिया शहर के एमजेके काॅलेज में रसायन शास्त्र के सेवानिवृत डेमोस्ट्रेटर, गुरूचरण बनर्जी के घर आये थे। क्योंकि उनके ससुर, अरविन्द मुखर्जी नेताजी के बचनप के मित्र थे। साथ में अलीपुर बम कांड में जेल भी गये थे। जेल से छूटने के बाद 1927 में स्थानीय विपिन स्कूल में अरविन्द सहायक शिक्षक के पद पर योगदान दिये, जबकि नेताजी जेल से छूटने के बाद बर्लिन चले गये थे। बर्लिन से लौटने के बाद उन्होंने अपने बचपन के मित्र अरविन्द की खोज-खबर ली। अरविन्द का पता चलने के बाद फरवरी, 1939 में अपने मित्र के बुलावे पर बेतिया आये और क्रांतिकारियों में क्रांति की अलख जगायी। पिछले वर्ष जब जिलाधिकारी, डाॅ0 निलेश रामचंद्र देवरे को यह जानकारी हुई कि नेताजी ने बेतिया में अंग्रेजों के खिलाफ आजादी के लिए आंदोलन किया था, तब वे नेताजी के बचपन के मित्र के घर पर गये और नेताजी से जुड़ी यादों को संजोया। कई यादगर तस्वीरों को अपने साथ लेकर आये ओर आजादी की लड़ाई में शामिल हुए बड़े स्वतंत्रता सेनानियों की यादों को संयोजने के लिए योजना भी बनायी गयी।

मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत एक दिवसीय वाहन मेला का आयोजन

बेतिया :: 23 जनवरी 2020 को अनुमंडल परिसर नरकटियागंज में मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के तहत चयनित लाभुकों द्वारा वाहन क्रय करने के लिए एक दिवसीय वाहन मेला लगाया गया इस वाहन मेला में कुल 31 लाभुकों द्वारा विभिन्न एजेंसियों से वाहन क्रय किया गया। जिन्हें जिला परिवहन पदाधिकारी राजेश कुमार सिंह अनुमंडल पदाधिकारी, नरकटियागंज चंदन चौहान भूमि सुधार उप समाहर्ता, नरकटियागंज अजय कुमार द्वारा संयुक्त रूप से वाहन की चाभी सौंपी गई। चाभी सौंपते हुए जिला परिवहन पदाधिकारी ने सड़क सुरक्षा संबंधी नियमों का अनुपालन करते वाहन का परिचालन करने का निर्देश दिया। वही अनुमंडल पदाधिकारी ने लाभुकों को इस बात से अवगत कराया कि योजना के तहत दिए जा रहे वाहन को 5 वर्ष तक नहीं बेचेंगे तथा वाहन से आमदनी कर परिवार का उचित भरण-पोषण करें एवं आर्थिक रूप से मजबूत बने। साथ ही योजना का प्रचार-प्रसार भी करें, ताकि जहां रिक्त रह गई हो उसे भी भरा जा सके। इस अवसर पर प्रखंड विकास पदाधिकारी मैनाटाड़, सिकटा प्रखंड कल्याण पदाधिकारी, मैनाटाड़ संजय कुमार, नागमणि कुमार समेत सभी संबंधित विकास मित्र उपस्थित हुए।

गणतंत्र दिवस मुख्य समारोह की तैयारियों की हुई समीक्षा

बेतिया :: जिला समाहरणालय सभाकक्ष में दिनांक- 23.01.2020 को गणतंत्र दिवस समारोह के सफल आयोजन हेतु समीक्षात्मक बैठक का आयोजन किया गया। गतणतंत्र दिवस समारोह को सफलतापूर्वक सम्पन्न करने हेतु बारी-बारी विभिन्न विभागों की कार्य प्रगति की समीक्षा की गयी। अपर समाहर्ता, नंदकिशोर साह ने कहा कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह स्थानीय महाराजा स्टेडियम में मनाया जायेगा। मुख्य समारोह में मुख्य अतिथि द्वारा 9.00 बजे पूर्वाह्न झंडोत्तोलन किया जायेगा एवं परेड का निरीक्षण किया जायेगा। उप विकास आयुक्त, रवीन्द्र नाथ प्रसाद सिंह ने कहा कि गतणंत्र दिवस समारोह की सफलता हेतु सभी पदाधिकारियों को तत्परतापूर्वक कार्यों का निवर्हन कर दिये गये दायित्वों को ससमय पूर्ण कर लेना है। उन्होंने कहा कि गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर विभिन्न विभागों/कार्यालयों द्वारा विकास कार्यक्रमों, जल-जीवन-हरियाली, नशामुक्ति आदि की झांकी निकाली जायेगी। इसमें जिला ग्रामीण विकास अभिकरण, सर्व शिक्षा अभियान, कृषि, स्वास्थ्य, उत्पाद विभाग, जीविका, परिवहन, जनसम्पर्क, बाल संरक्षण, वन, समेकित बाल विकास परियोजना, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण, निर्वाचन आदि विभाग/कार्यालय द्वारा झांकी निकाली जायेगी। प्रभारी पदाधिकारी, जिला सामान्य शाखा, मनीष कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि मुख्य समारोह स्थल महाराजा स्टेडियम में झण्डोत्तोलन पूर्वाह्न 9.00 बजे होगा। वहीं पूर्वाह्न 10.30 बजे सहारणालय परिसर में, पूर्वाह्न 10.35 बजे विकास भवन परिसर में, पूर्वाह्न 10.40 बजे पुलिस अधीक्षक कार्यालय परिसर में, पूर्वाह्न 10.45 बजे जिला परिषद कार्यालय में, पूर्वाह्न 10.50 बजे अनुमंडल कार्यालय परिसर में, पूर्वाह्न 11.00 बजे होमगार्ड कार्यालय परिसर, पूर्वाह्न 11.10 बजे आरक्षी केन्द्र, बेतिया एवं पूर्वाह्न 11.40 बजे महादलित टोलों में झण्डोत्तोलन किया जायेगा। उन्होंने कहा कि गणतंत्र दिवस परेड का पूर्वाभ्यास किया जा रहा। इसके साथ ही गणतंत्र दिवस के अवसर पर एक फैन्सी क्रिकेट मैच का आयोजन भी किया जाना है। इस अवसर पर अपर समाहर्ता, नंदकिशोर साह, उप विकास आयुक्त, रवीन्द्र नाथ प्रसाद सिंह, जिला मत्स्य पदाधिकारी-सह-प्रभारी पदाधिकारी, जिला सामान्य शाखा, मनीष श्रीवास्तव, जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी, अरूण कुमार, जिला शिक्षा पदाधिकारी, हरेन्द्र झा, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, विनोद कुमार रजक सहित अन्य जिलास्तरीय पदाधिकारी उपस्थित रहे।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस के सच्चे मित्र अरविंद मुखर्जी सम्मान समारोह हुआ आयोजित

महान स्वतंत्रता सेनानी सह आजाद हिंद फौज के संस्थापक नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 123 वी जन्मदिवस पर सम्मानित हुए नेताजी सुभाष चंद्र बोस के सच्चे मित्र अरविंद मुखर्जी! आज दिनांक 23 जनवरी 2020 को सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन द्वारा एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों बुद्धिजीवियों एवं छात्र छात्राओं ने भाग लिया ! महान स्वतंत्रता सेनानी सह आजाद हिंद फौज के संस्थापक नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 123 वी जन्मदिवस 23 जनवरी 2020 को नेताजी सुभाष चंद्र बोस के सच्चे मित्र स्वर्गीय अरविंद मुखर्जी को ” राष्ट्रीय सद्भावना सम्मान” से सम्मानित किया किया गया ! मुख्य अतिथि के रूप में अनुमंडल पदाधिकारी बेतिया विद्या नाथ पासवान ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए नेताजी सुभाष चंद्र बोस के बचपन के मित्र स्वतंत्रा सेनानी स्वर्गीय अरविंद मुखर्जी वार्ड नंबर 25 को उनके घर जाकर सम्मानित किया !इस अवसर पर सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन के सचिव डॉ0 एजाज अहमद ने कहा कि सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन एवं चंपारण की जनता की ओर से एक छोटा सा प्रयास है ताकि राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलन में चंपारण के स्वतंत्रता सेनानियों एवं अपने पुरखों के योगदान को नई पीढ़ी जान सके! आज से लगभग 81 वर्ष पूर्व सुभाष चंद्र बोस ने राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलन में प्राण डालते हुए आम जनमानस से आह्वान करते हुए कहा का कहा था कि तुम मुझे खून दो मैं तुझे आजादी दूंगा! राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलन को और भी धारदार बनाने के लिए कई महत्वपूर्ण अवसरों पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने बेतिया पश्चिम चंपारण का दौरा किया था! पहली बार 26 अगस्त 1939 ई0 को मुजफ्फरपुर तिलक मैदान में एक विशाल जनसभा को संबोधित करने के बाद बेतिया पश्चिम चंपारण की ओर रुख किया था! शाम में बेतिया सदर अस्पताल के समीप अपने बचपन के मित्र अरविंद मुखर्जी के घर ठहरे एवं रात्रि विश्राम किया! सुबह सवेरे विपिन मध्य विद्यालय, मीना बाजार चौक, छोटा रमना एवं सोवा बाबू चौक पर हजारों बाजार लोगों को संबोधित किया था! दूसरी बार पुन: 06फरवरी 1940 को मुजफ्फरपुर होते हुए बेतिया पहुंचे एवं पुन: अपने बचपन के मित्र अरविंद मुखर्जी के घर ठहरे! मीना बाजार एवं छोटा रमला के मैदान में हजारों हजार लोगों ने राष्ट्रीय आंदोलन के लिए आयोजित आयोजित होने वाले कार्यक्रम में हिस्सा लिया था! आज भी उन ऐतिहासिक सभाओं की तस्वीरें बेतिया स्थित अरविंद मुखर्जी के निवास स्थान , सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन के कार्यालय एवं जिला अधिकारी महोदय के कार्यालय में देखी जा सकती है! स्मरण रहे कि मेहसी के नागरिक पुस्तकालय के विजिटर्स बुक में नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा 6 फरवरी 1940 यादें सुरक्षित हैं ! जहां पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने पब्लिक लाइब्रेरी देखने के बाद बीटल्स बुक में पब्लिक लाइब्रेरी की प्रशंसा की थी! पिछले वर्ष सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन के प्रयासों के बाद स्वर्गीय अरविंद मुखर्जी के घर जो वार्ड नंबर 25 में अवस्थित है 23 जनवरी 2019 को सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में जिला अधिकारी निलेश चंद्र देवरे ,कार्यपालक पदाधिकारी एवं सिटी मैनेजर नगर परिषद बेतिया द्वारा स्वर्गीय अरविंद मुखर्जी जी के परिजनों को उनके निवास स्थान पर सम्मानित किया गया था! इस अवसर पर स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड एंबेसडर नीरज गुप्ता एवं बिहार विश्वविद्यालय के इतिहास विभाग के डॉ0 शाहनवाज अली ने कहा कि सत्याग्रह रिसर्च फाउंडेशन विभिन्न सामाजिक संगठनों के साथ मिलकर स्वतंत्रता सेनानियों एवं उनके परिवारों को चंपारण की जनता एवं नई पीढ़ी से रूबरू कराने का एक छोटा सा प्रयास कर रहा है ताकि चंपारण की नई पीढ़ी अपनी गौरवशाली इतिहास को जान सके! इस दिशा में हमें सामाजिक एवं सरकारी स्तर पर मिल रहे सहयोग के लिए हम समाज के आभारी हैं! इस ऐतिहासिक अवसर पर वार्ड नंबर 25 के जाने-माने समाजसेवी रोहित नाग एवं संजय मुखर्जी ने कहा कि विपिन मध्य विद्यालय एवं मीना बाजार में में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आदम कद प्रतिमा स्थापित की जाए ताकि नई पीढ़ी राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलन एवं चंपारण वासियों के योगदान को जान सके !यही होगी शहीदों एवं स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति समाज एवं राष्ट्र की ओर से सच्ची श्रद्धांजलि!

About the author

Aditya Prakash Srivastva