उत्तर प्रदेश कुशीनगर राजनीति राज्य

कुशीनगर :: पालघर संतो की हत्या पर मौन व ड्रग्स के खिलाफ आवाज उठाने वाली मातृ शक्ति कंगना रनौत के खिलाफ महाराष्ट्र की उद्धव सरकार : आशुतोष ॠषि महाराज

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

आदित्य प्रकाश श्रीवास्तव, कुशीनगर केसरी कुशीनगर(०९ सितंबर)। हिंदू जागरण मंच प्रदेश प्रमुख प्रसार प्रचार विभाग आशुतोष ऋषि महाराज ने कंगना रनौत पर हुऐ दोहरे मानदंड के लिए उद्धव सरकार को जमकर लताड़ा और यहा तक कह दिया कि विरोधियों को खत्म करना कांग्रेस, शिवसेना से सीखे विचार परिवार भाजपा। एक लड़की कंगना के खिलाफ महाराष्ट्र विधानसभा हनन प्रस्ताव पारित हुआ और गृहमंत्री अनिल देशमुख ने दिये कंगना के खिलाफ ड्रग्स जांच के आदेश।

आशुतोष ऋषि महाराज ने कहा कि पद्मश्री नेशनल अवार्ड लड़की को हरामखोर बोलने वाले महाराष्ट्र सरकार के नेता संजय राउत पर आखिर क्यों मौन रही महिला विरोधी महाराष्ट्र विधानसभा। जिस कंगना ने ड्रग्स माफिया के विरुद्ध आवाज उठाई उसी के खिलाफ ड्रग्स का मुकदमा चलाने बात शुरू हो गई लेकिन जिन कलाकारों का नाम कंगना ने लिया उस पर सरकार चुप्पी क्यों साध ली है। ये है कांग्रेस का “लोकतंत्र” जिसे बचाने खातिर वह आए दिन दुहाई देती है ये महाराष्ट्र का लोकतंत्र है।

आशुतोष ने बताया कि वो कंगना से ये भी कहना चाहते हैं कि कंगना तू सच मे पगली लड़की है रे ! किस के भरोसे इतने ताकतवर नेक्सेस से लड़ बैठी.. हिन्दुओ के भरोसे ?? अरे पगली ये तो सबसे स्वार्थी कौम है। तू कहाँ फंस गई ये देशभक्ति के चक्कर में.. मस्त देश मे डर लगता है बयान देती और हीरो बन जाती। पगली CAA का समर्थन कर रही थी। मस्त jnu जाती 5 करोड़ भी मिलते शिवसेना, कांग्रेस की चहेती बन जाती। क्या जरूरत थी राम जन्मभूमि पूजन ट्वीट की.. चुप रहती.. तू सच मे पगली है लेकिन तूने एक अच्छा काम कर दिया.. तूने हम मुर्दो को जगा दिया. तूने बता दिया कि बिना इकोसिस्टम के हिन्दू असहाय है। वाह रे “नरेटिव” की माया आमिर खान, नसरुद्दीन का “डर” देश मे इन्टॉलरेंस बहस को जन्म देता है लेकिन एक लड़की संजय राउत द्वारा दी गई “मुम्बई छोड़ने की धमकी के बाद डरे” तो विधानसभा हनन प्रस्ताव पारित हो जाता है। वहीं शशि थरूर जब हिन्दू तालिबान कहते है तब हिन्दुओ और देश का अपमान नही होता लेकिन इस्लामिक बॉलीबुड बोलने से मजहब का अपमान हो जाता है, बहुत बढ़िया। 100 करोड़ हिन्दुओ के बीच एक क्षत्राणी को लगातार अपमानित, परेशान किया जा रहा है. तो ये किसके शर्म का विषय है ?

इकोसिस्टम बना लो हिन्दुओ अन्यथा खत्म कर दिए जाओगे.. जैसे कपिल मिश्रा को वैचारिक रूप से खत्म कर दिया गया.. वैसे कंगना को भी खत्म किया जा रहा है। हमें लड़ना ही होगा और जीतना भी.. क्योंकि यहाँ तीसरे विकल्प का मतलब खत्म होना है। हिन्दू जागरण मंच गोरक्ष प्रान्त द्वेष से की गई कार्यवाही का विरोध करता है।

About the author

Aditya Prakash Srivastva