पश्चिमी चम्पारण बिहार बेतिया राजनीति राज्य

बेतिया(प.चं.) :: झिलिया स्थित तीन एकड़ सरकारी भूखण्ड पर 56.92 लाख की चहारदीवारी निर्माण, सुरक्षित व सुविधाजनक होगा नप का कचरा प्रबंधन : गरिमा

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

विजय कुमार शर्मा, कुशीनगर केसरी/केके न्यूज24, बिहार। नगर परिषद की सभापति गरिमा देवी सिकारिया ने कहा कि 35 से 40 मिट्रिक टन शहरी कचरे का कम्पपोस्टिंग कर के जैविक खाद बनाने की योजना को गति मिलना अब सुनिश्चित हो जाएगा। इसके साथ ही नगर परिषद क्षेत्र को कचरामुक्त बनाने पर भी अमल तेज हो जायेगा। वे सोमवार को तीन एकड़ से भी अधिक में विस्तार वाले नगर परिषद के झिलिया स्थित भूखण्ड के चाहरदिवारी निर्माण की 56 लाख 91,900 की योजना का शिलान्यास करने के बाद मौके पर मौजूद लोगों को संबोधित कर रहीं थीं।

इस योजना के महत्व को रेखांकित करते हुए नप सभापति ने कहा कि केन्द्र सरकार की बहुचर्चित योजना ‘अमरूत’ (अटल मिशन फॉर अर्बन रिफॉर्म) में चयनित होने के वर्षों बाद भी नगर परिषद क्षेत्र में कचरा प्रबंधन की व्यवस्था मानक के अनुरूप नहीं हो पा रही थी। जबकि चार चार कम्पोस्टिंग पिट तथा कम्पोस्टिंग खाद बनाने के लिये कचरा पृथकीकरण चबूतरे का 34.71 लाख की लागत वाले निर्माण की योजना गति नहीं पकड़ पा रही थी। नगर परिषद के तीन एकड़ से भी अधिक वाले भूखण्ड के बावजूद ऐसी स्थिति से जुड़ी सारी समस्याओं का निदान 56.91 लाख की प्राक्कलित लागत होने वाले चाहरदीवारी निर्माण के साथ ही हो जायेगा। नप सभापति ने बताया कि झिलिया जैसे उपयोगी करोड़ों के सरकारी भूखण्ड की इस चाहरदीवारी के बन जाने से नगर परिषद के अपने भूखण्ड (झिलिया) पर पर्यावरण के सुरक्षा मानकों का पालन करते हुए कचरा प्रबंधन की योजना पर तेजी से अमल शुरू हो जाएगा। सभापति श्रीमती सिकारिया ने कहा कि शहर से प्रतिदिन निकलने वाले 70 से 75 मिट्रिक टन कचरे के आधे से अधिक को कम्पोस्टिंग खाद (उर्वरक) बनाने की योजना सफल होने के साथ शहर में रोज रोज निकलने वाले कचरे का निस्तारण नियमित रूप से होना भी सुनिश्चित हो जाएगा। मौके पर कनीय अभियंता सुजय सुमन, पार्षद अश्विनी कुमार, पार्षद प्रतिनिधि संजय शर्मा, संवेदक राजू और चुन्नू उपस्थित रहे।

About the author

Aditya Prakash Srivastva

Leave a Comment