पश्चिमी चम्पारण बगहा बिहार राजनीति राज्य

बगहा(पश्चमी चंपारण) :: प्रखंड बगहा एक के सलहा बरिअरवा पचायत के किसानों ने फसल क्षति मुआवजा को लेकर किया प्रदर्शन

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

विजय कुमार शर्मा, कुशीनगर केसरी/केके न्यूज24, बिहार(०३ अक्टूबर)। पश्चमी चम्पारण जिला के बगहा अनुमंडल अतर्गत प्रखंड बगहा एक के सलहा बरिअरवा पचायत के झारमहुई गाँव के किसान मशान नदी की त्रासदी झेल रहे हैं। मशान नदी के उग्र रूप से दर्जनो घर नदी में विलिन हो गई है। जिससे आक्रोशित किसानों ने पंचायत के झारमहुई गाँव के किसानों ने रविवार को उग्र होकर जमकर प्रदर्शन किया तथा विभागीय अधिकारियों समेत सुबे की सरकार से मशान नदी के बाढ़ से बर्बाद हुए फसलों की क्षति मुआवजा की मांग किया।

समाजसेवी नसीम अहमद पंचायत के पूर्व सरपंच नजरें इमाम, रफी अहमद, जे पी पाडेय, खलीफ कुरैशी, सफीउर रहमान, एजाज अहमद, विनोद तिवारी, शहनवाज अहमद, केदार पडित समेत दर्जनों की संख्या में किसानों ने बताया कि मशान नदी के त्रासदी से कईयो पंचायत काफी प्रभावित हो गया था तथा हजारों एकड मे लगाये गये धान, गन्ना की फसले बर्बाद हो गई है । बावजूद भी प्रशासनिक स्तर से कोई भी पदाधिकारी सुध लेने नहीं पहुचा। जिससे किसानों मे विभागीय उदासिनता से काफी आक्रोश व्याप्त है। किसानों ने कहा कि सरकार ससमय किसानों के बीच फसल क्षति मुआवजा नहीं देती है तो किसान आत्महत्या करने पर विवश हो जायेगा। किसानों ने बताया कि मशान नदी में आई प्रलंयकर बाढ से पंचायत की सडक व पुल- पुलिया भी ध्वस्त हो गया है। जिससे आवागमन पूर्ण रूप से प्रभावित हो गया है तथा मशान नदी की विभिषका से कई घर नदी में विलिन हो गया तथा दर्जनों घरों में बाढ की पानी समा गई थी।

About the author

Aditya Prakash Srivastva