उत्तर प्रदेश कुशीनगर राज्य

कुशीनगरःः रिहाई की मांग को लेकर पत्रकार हुयें लामबन्द ,ग्रापए ने सौंपा राष्ट्रपति को सम्बोधित डीएम को ज्ञापन

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 

वरिष्ठ संवाददाता. सुनील कुमार तिवारी

कुशीनगर ।ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन संघ उत्तर प्रदेश जिला इकाई कुशीनगर के अध्यक्ष ओमप्रकाश द्विवेदी के नेतृत्व में पत्रकारों ने कलेक्ट्रेट पहुंच डीएम को राष्ट्रपति को संबोधित एक ज्ञापन सौंपा ।जिसमें मांग किया है कि महाराष्ट्र मे रिपब्लिक भारत के एडिटर इन चीफ व वारिष्ट पत्रकार अर्नव गोस्वामी को सरकार द्वारा फर्जी तरीके से गिरफ्तार किये जाने के विरोध मे उनके रिहाई की मांग की गई साथ ही ऐसा वार्ताव करने वालों के खिलाफ जांच करा तत्काल कार्रवाई करने का भी मांग किया गया ।

इस बावत आज मंगलवार को विरोध प्रर्दशन का नेतृत्व करते हुये ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश दिवेदी ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार पत्रकारों के कलम को कुंद करना चाहती है और मीडिया को दबाव मे लेकर अपने हिसाब से चलाना चाहती है,अर्नव गोस्वामी महाराष्ट्र सरकार की इस नित को स्वीकार नही किये और लोकहित मे समाचार देते रहे,जिससे नराज महाराष्ट्र सरकार खिसीहानी बिल्ली खम्भा नोचने जैसा कृत्य करके बिना नोटस के अर्नव को गिरफ्तार किये है जो लोकतंत्र व संविधान के विरुद्ध है,उसकी हमलोग निंदा करते हैं और तत्काल रिहाई की मांग करते है।धरने को सम्बोधित करते हुये ग्रापए संगठन मंत्री सुमन्त दूबे ने कहा कि पत्रकारों को डरा धमकाकर फर्जी तरीके से गिरफ्तार करा रही है।पत्रकारों का उत्पीड़न हो रहा है अगर महाराष्ट्र ही नही अपित पूरे देश के कहीं भी पत्रकारों का उत्पीड़न हुआ तो पत्रकार संग उसका विरोध करेगा।पडरौना तहसील अध्यक्ष हरिशंकर चौबे ने कहा कि अर्नव गोस्वामी की गिरफ्तारी पूरी साजिश के तहत की गई है,उनकी हत्या कराने के नियत से महाराष्ट्र सरकार के सह पर उन्हे जेल चेंज कर दिया गया है, अर्नव के साथ कोई भी अनहोनी होती है तो उसकी सारी जिम्मेदारी महाराष्ट्र सरकार व वहां की पुलिस की होगी।तहसील उपाध्यक्ष राजन विश्वकर्मा ने कहा कि अर्नव की अचानक गिरफ्तारी से पुरा भारत के लोगो मे आक्रोश ब्याप्त है,उनकी जल्द से जल्द रिहाई होनी चाहिए।वारिष्ट पत्रकार रामयण यादव ने कहा की अर्नव की गिरफ्तारी पत्रकारों का गला घोटने जैसा है।वारिष्ट पत्रकार आशोक शुक्ल ने कहा कि अचनाक गोस्वामी की गिरफ्तारी पूरी तरह साजिश है,इसी तरह यदि
राजनीतिक दलो के सह पर बेवजह पत्रकारों को पुलिस गिरफ्तार कर उत्पीड़न कर रही है। उसके बाद भी पत्रकार सच्चाई लिखने मे नही दबेगें।कभी भी सत्य की जीत होती है।वारिष्ट पत्रकार सुनील तिवारी ने कहा कि सत्य कभी झुकता नही है,महाराष्ट्र सरकार की गलत नीति असफल रहेगी और सत्य का जीत होगा।अर्नव का जल्द से जल्द रिहाई होगा क्योंकि पुरा भारत उनके साथ है।इस दौरान अजीत,आदित्य, ,राजन,दुर्गेश मिश्र,शैलेश उपाध्याय,हरिशंकर,सुरेंद्र शर्मा,नीरज,सौरभ,हलचल
,मु.नईम अंसारी, रत्नेश, गोविंद, जैकी,मुकेश, मणिन्द्र आदि पत्रकार मौजूद रहे।

About the author

Aditya Prakash Srivastva