उत्तर प्रदेश राजनीति राज्य सोनभद्र

सोनभद्र :: जनपद के लिए वरदान साबित होगा हर घर नल योजना : मुख्यमंत्री

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

:::– सोनभद्र व मिर्जापुर में 23 परियोजनाओं की शुरुआत, 2 वर्षो में होगा पूरा

अवधेश शुक्ला, कुशीनगर केसरी/केके न्यूज24, सोनभद्र(२२ नवंबर)। उत्तर प्रदेश के व विकास को भी पंख लग रहे हैं। राज्य में विकास परियोजनाएं शुरू की जा रही हैं और उन्हें अमल में लाया जा रहा है। इसी कड़ी में पीएम नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल तथा सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोनभद्र की धरती से धंधरौल बांध के समीप से 23 ग्रामीण पाइप पेयजल परियोजना का लोकार्पण किया।

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जल जीवन मिशन के तहत ‘हर घर जल योजना’ की सोनभद्र से शुरुआत करते हुए कहा कि आज 5555 करोड़ रुपये की लागत से सोनभद्र व मिर्जापुर में 23 परियोजनाओं की शुरुआत की गई है। जिन्हें दो वर्षों में पूर्ण कर लिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने संवाद करते हुए कहा कि “कोरोना वायरस के संक्रमण काल में ये योजना बेहद महत्वपूर्ण है। स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता से तमाम बीमारियों को नियंत्रित करने में सफलता प्राप्त होगी। इसके बाद सोनभद्र व मिर्जापुर में जल समृद्धि आएगी। यह परियोजना सोनभद्र और मिर्जापुर के क्षेत्र में सौगात साबित होगी। वहीं इस योजना से लाखों लोगों को फायदा होगा। वहीं अब निकट भविष्य में विंध्‍य क्षेत्र के ग्रामीणों को पीने के पानी के लिए शुद्ध पेयजल की समस्या अब समाप्त होगी। उन्होंने कहा कि अब मीलों दूर से पानी ढो कर लाने की मशक्‍कत से ग्रामीण महिलाओं को निजात मिलने जा रही है।

केंद्र सरकार की हर घर नल योजना के तहत योगी सरकार सोनभद्र के 663 गांवों तथा मिर्जापुर के 1606 गांवों में पाइप के जरिये पेय जल सप्‍लाई शुरू करेगी। सोनभद्र में इस योजना पर सरकार ₹3212.18 करोड़ खर्च कर 14 ग्रामीण पाइप पेयजल परियोजना लगाई जाएगी। तो वहीं मिर्जापुर में ₹2343.20 करोड़ की लागत से 9 परियोजना को पूर्ण किया जाएगा।” सोनभद्र से विंंध्‍य क्षेत्र मीरजापुर और सोनभद्र जिले में पीएम नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ आज रविवार को शुद्ध जलापूर्ति की योजनाएं जनता को समर्पित किया। रविवार की सुबह आयोजन स्‍थल को वीडियो कांफ्रेंसिंग से जोड़कर पूरे कार्यक्रम का सीधा प्रसारण शुरू किया गया। वहीं आयोजन से एक दिन पूर्व कार्यक्रम की पूरी रूपरेखा को पीएम नरेंद्र मोदी ने भी सोशल मीडिया पर साझा कर योजनाओं के बारे में लोगों को जानकारी भी दी थी। पीएम ने सभा को आनलाइन संबोधित करते हुए कहा कि यह ऐसा क्षेत्र है जिसे आजादी के बाद दशकों तक उपेक्षित रखा गया था, इस क्षेत्र की सबसे अधिक उपेक्षा की गई।
विंध्याचल हो या बुंदेलखंड – बहुत सारे संसाधन होने के बावजूद ये क्षेत्र कमियों के क्षेत्र बन गए थे। कई नदियां होने के बावजूद इन क्षेत्रों को सबसे प्यासा और सूखा प्रभावित क्षेत्रों के रूप में जाना जाता था। इतने सारे लोगों को यहां से पलायन करने के लिए मजबूर किया गया। ’हर घर जल’ योजना का एक वर्ष पूरा हो गया है। 2.60 करोड़ से अधिक परिवारों ने अपने घरों में नलों के माध्यम से स्वच्छ पेयजल की सुविधा लेना शुरू कर दिया है। आज शुरू हुई परियोजनाओं को आगे और गति मिलेगी। सोनभद्र के कोटा ग्राम पंचायत के गुरमुरा में हर घर पेयजल योजना के शुभारंभ के दौरान प्रधानमंत्री ने वर्चुअल संवाद के दौरान फूलपति देवी से बात की।वहीं इससे पूर्व सोनभद्र में सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि 70 वर्षों में पेयजल आपूर्ति परियोजनाओं को केवल विंध्य क्षेत्र के 398 गांवों में ही लागू किया गया था।आज हम यहां क्षेत्र के 3000 से अधिक गांवों में ऐसी परियोजनाओं को आगे ले जा रहे हैं।
मुख्यमंत्री मिर्जापुर, सोनभद्र में पेयजल आपूर्ति परियोजनाओं के लिए शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल हुए और आयोजन के दौरान सभा को भी संबोधित करते हुए सरकार की प्राथमिकता भी गिनायी। सुबह 10:50 बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हेलीकाप्टर से सोनभद्र में आयोजन स्‍थल पहुंचे तो पार्टी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने उनका स्‍वागत किया।

About the author

Aditya Prakash Srivastva