उत्तर प्रदेश मिर्जापुर राज्य

मिर्जापुर :: जिलाधिकारी मीरजापुर व पुलिस अधीक्षक ने संयुक्त रुप से किया अपराध गोष्ठी व सैनिक सम्मेलन

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अन्नपूर्णा श्रीवास्तव, कुशीनगर केसरीध्केके न्यूज24, मिर्जापुर। जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार व पुलिस अधीक्षक मीरजापुर अजय कुमार सिंह द्वारा आज दिनांक 09/01/2021 को अपराह्न 16.00 बजे से पुलिस लाइन के मनोरंजन कक्ष में सैनिक सम्मेलन किया गया । सैनिक सम्मेलन के आयोजन में सर्वप्रथम जनपद के थानों व शाखाओं से आये पुलिसकर्मियों से उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी की गयी व उनके निस्तारण के लिए संबंधित को निर्देशित किया गया। तत्पश्चात जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक मीरजापुर द्वारा अपराध गोष्ठी की गयी, सर्वप्रथम जनपद में होने वाले पंचायत चुनाव की तैयारियों के संबंध में आवश्यक निर्देश दिये गये जिसमे आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों के दृष्टिगत थाना प्रभारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे गांवों में पार्टीबंदी के मामलों पर नजर रखें तथा हर छोटे-बड़े विवाद को गंभीरता से लें। पुरानी घटनाओं के आधार पर संवेदनशील स्थलों को चिह्नित करे तथा अधिक से अधिक निरोधात्मक कार्यवाही करने निर्देश दिए गए हैं। पुलिस का प्रयास रहे कि विवाद की संभावनाओं को कम किया जाए।

जनपद की कानून व्यवस्था, आपराधिक प्रकरण, विवेचनाओं के निस्तारण एवं अपराधियों के विरूद्ध कार्यवाही आदि बिन्दुओं की समीक्षा की गयी, टॉप-10 अपराधियों, चार्ज शीट, एफआर का दाखिला, मालों का निस्तारण, वन माफिया, खनन माफिया, महिला संबंधी अपराधों में अभियुक्तों के विरूद्ध प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया, पुलिस अधीक्षक मीरजापुर द्वारा पॉक्सो व बलात्कार जैसे मुकदमों की विवेचना का निस्तारण, बाइकर्स गैंग के विरूद्ध कार्यवाही करने के लिए, मुकदमों की प्रभावी पैरवी, इनामिया अपराधियों पर नकेल लगाने हेतु समुचित विधिक कार्यवाही निगरानी व चेकिंग, पुराने अपराधियों व हिस्ट्रीशीटरों की कड़ी निगरानी व चेकिंग, दुर्घटना से संबंधित प्रकरणों में प्राथमिकता के आधार पर अभियोग करने , चरित्र सत्यापन पासपोर्ट सत्यापन तथा शस्त्र लाइसेंस की रिपोर्ट शीघ्र प्रेषित करने, आईजीआरएस एवं अन्य शिकायती प्रार्थना पत्रों का समयबद्ध निस्तारण किये जाने के संबंध में, मा0 न्यायालय द्वारा निर्गत सम्मन, वारण्ट, बीडब्ल्यू, एनबीडब्ल्यू का शत प्रतिशत समयबद्ध तामिला कराये जाने के संबंध में, पुराने अभियोगो के तत्काल निस्तारण के संबंध में, समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गए।पुलिस अधीक्षक मीरजापुर द्वारा थाना प्रभारियों को निर्देशित किया कि सभी अधिकारी एवं कर्मचारियों का आपस में तथा जनता के प्रति व्यवहार अच्छा हो व सभी मिलजुल कर अपराध नियन्त्रण की कार्यवाही करायें तथा अपराध नियन्त्रण में जनता का सहयोग अवश्य लिया जाये, सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित किया गया कि चिन्हित किये गये भू-माफियाओं के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही आवश्यक रूप से करायी जाये व गैंगेस्टर के पंजीकृत मुकदमों में अभियुक्तों की गिरफ्तारी सुनिश्चित कराते हुये उनके विरूद्ध धारा 14(1) की कार्यवाही भी अवश्य करायी जाये तथा अवैधानिक कार्यों से अर्जित की गयी सम्पत्ति को जब्त करायें, ताकि इस प्रकार की प्रवृत्ति को प्रसारित होने से रोका जा सके । समस्त थाना प्रभारियों को निर्देशित किया गया कि समस्त थाना प्रभारीगण अपने-अपने क्षेत्र में चलने वाली पुलिस मोबाईलों, रात्रिगश्त, पैदलगश्त एवं चेकिंग में प्रभावी रूप से कार्यवाही करायें तथा ड्यूटी में लगे कर्मचारियों द्वारा सक्रिय रहकर की जाने वाली कार्यवाही को पूर्ण मनोयोग, ईमानदारी व निष्ठा से निष्पादित किया जाये, जिससे कार्यवाही का बेहतर परिणाम प्राप्त हो सके।
उक्त गोष्ठी में अपर जिलाधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक नगर, अपर पुलिस अधीक्षक ऑपरेशन, उपजिलाधिकारी मड़िहान,चुनार,सदर व लालगंज,क्षेत्राधिकारी चुनार, क्षेत्राधिकारी लालगंज, क्षेत्राधिकारी नगर, जिला फौजदारी अधिवक्ता, जेल अधीक्षक, होम गार्ड कमांडेंट, प्रतिसार निरीक्षक, आरआई रेडियो, आबकारी निरीक्षक स्वाट टीम प्रभारी, अपराध शाखा प्रभारी, अग्निशमन अधिकारी, ज्येष्ठ अभियोजन अधिकारी, जीआरपी व रेलवे पुलिस के अधिकारी, वन विभाग के अधिकारी सहित समस्त थाना प्रभारी/थानाध्यक्ष व शाखा प्रभारीगण उपस्थित रहे।

About the author

Aditya Prakash Srivastva