बिहार मोतिहारी राज्य

मोतिहारी : जनपद की प्रमुख खबरें एक साथ

News
  •  
  •  
  •  
  • 5
  •  
  •  
  •  
  •  
    5
    Shares

केतन कुमार, kknews24/कुशीनगर केसरी ढाका, मोतिहारी(११ जनवरी, शुक्रवार) की रिपोर्ट…..

मोतिहारी प्रखंड अंतर्गत बासमन गांव में में बने उपस्वास्थ्य केंद्र की की बिगड़ी हालात सभी ग्रामीण चिंतित : अनिकेत पाण्डेय

मोतिहारी : चलो गांव की ओर अभियान के तहद आज मोतिहारी प्रखंड के बासमन गांव स्थित उप स्वास्थ्य केंद्र के जर्जर हालत और दवा डॉक्टर और प्राथमिक उपचार की सुविधाओं के कमी को लेकर बिहार नवयुवक सेना के तत्वावधान में सभी गांव के नौजवान बुजुर्ग और अभिभावकों के साथ स्थानीय उप स्वास्थ्य केंद्र पर जिला स्वास्थ समिति के खिलाफ प्रदर्शन प्रदर्शन का निर्णय लिया गया, जहा बिहार नवयुवक सेना के संस्थापक अध्यक्ष अनिकेत पांडेय ने कि जब से यह उप स्वास्थ्य केंद्र बना है तब से लेकर अब तक यहां किसी भी प्रकार का कोई सुविधा नहीं है मामला यह है यहां पर ना तो कोई डॉक्टर आते हैं और ना एएनएम दीदी आती हैं और ना ही यहां पर किसी भी प्रकार के दवा की व्यवस्था है, उप स्वास्थ्य केंद्र जो बासमन गांव में स्थित है इसकी हालत जिला स्वास्थ्य समिति भी चुप है और इस बदहाली के स्थिति का जिम्मेवार केवल और केवल जिला स्वास्थ समिति है।
वही श्री पाण्डेय ने बताया कि सिविल सर्जन महोदय का ध्यान इस अस्पताल पर नहीं है सिविल सर्जन महोदय जिले की में बने हर एक उप स्वास्थ्य केंद्र के साथ सौतेला व्यवहार कर रहे हैं जो काफी गलत है। वहींं बिहार नवयुवक सेना के जिला संयोजक टिंकु श्रीवास्तव ने कहा कि अगर जल्द से जल्द यहां पर सर्वे कर इस अस्पताल के मरमती का कार्य और डॉक्टर की व्यवस्था नहीं की गई तो यहां से लेकर मोतिहारी तक बिहार नवयुवक सेना और सभी ग्रामीण बड़े आंदोलन करने को बाध्य होंगे !

मौके पर गुड्डू कुशवाहा, मिंटू मिश्रा, राहुल सिंह, मुकेश मिश्रा, सुभाष गुप्ता, विकास गुप्ता, राजेश गुप्ता, नितेश यादव, आलोक चौरसिया, राहुल चौरसिया, अमित गुप्ता,सूरज प्रजापति, मदन साह, चरण सिंह,रंजय ठाकुर,सुजय ठाकुर, अमित ठाकुर,नीरज गिरी,सल्लू भाई,अभिषेक गुप्ता,नीलेश चौरसिया आदि के साथ दर्जनों ग्रामीण और सदस्य साथी सामिल थे।

भगवान भरोसे चल रहा है ढाका रेफरल अस्पताल चिकित्सक एवं स्वास्थ्य कर्मी की जगह सुरक्षा गार्ड कर रहे हैं मरीजों की का इलाज

ढा़का : इन दिनो ढाका रेफरल अस्पताल भगवान भरोसे चल रहा है अस्पताल में चिकित्सक और कर्मचारी कब अपने ड्यूटी पर आएंगे इसका कोई गारंटी नहीं है स्वास्थ्य विभाग के लापरवाही के कारण यह नजारा उस वक्त देखने को मिला शुक्रवार को ढाका रेफरल अस्पताल में 15 महिलाओं का बंध्याकरण आपरेशन किया गया ऑपरेशन करने वाले चिकित्सक रूटीन के मुताबिक उनका ऑपरेशन करके चले गए लेकिन रूटीन के अनुसार उन्हें मिलने वाली दवा एवं इंजेक्शन समय से मिला कि नहीं इसका कोई खोज खबर लेने वाला नहीं है इसकी सूचना मीडिया को मिली तो अस्पताल पहुंचकर पड़ताल शुरू की प्रथम दृष्टया या देखा गया कि अस्पताल के सुरक्षा गार्ड ही मरीजों का सेवा सत्कार कर रहे हैं चिकित्सकों के बारे में जानकारी ली गई तो पता चला की ड्यूटी पर शाम से ही कोई चिकित्सक नहीं आए हैं स्वास्थ्य कर्मचारी अस्पताल परिसर से नदारद मिले जब मीडिया का कैमरा सुरक्षा गार्ड पर गया तो सुरक्षा गार्ड ने अस्पताल की आप बीती बताना शुरू कर दिया इस बाबत जिला सिविल सर्जन वीके सिंह ने पूछे जाने पर बताया किया मामला काफी गंभीर है इस मामले की जांच कर लापरवाह चिकित्सा एवं मीडिया इन लापरवाह स्वास्थ्य कर्मियों की खबर लेती रहेगी।

भोजपुर : जिले के शाहपुर थाना अन्तर्गत बहोरनपुर ओपी के लक्ष्मणपुर गांव में अपराधियों के हमले में गोली लगने से घायल ग्राम पंचायत की वार्ड सदस्य ललीता देवी के पति चैत चौधरी की गुरूवार को पटना में इलाज के दौरान मौत हो गई। वह दो दिनों से पटना के एक निजी अस्पताल में ¨जदगी व मौत से जूझ रहा था। इस बीच सुबह पहर उसने दम तोड़ दिया। उसे दो गोली लगी थी। बाद में पोस्टमार्टम के बाद संध्या समय मृतक वार्ड सदस्य के पति के शव को गांव लाया गया। जिसके बाद परिजनों के क्रंदन से माहौल गमगीन हो गया। इस दौरान घटना से गुस्साए लोगों ने हंगामा किया।

समाचार लिखे जाने तक शव गांव में ही पड़ा हुआ था। गौरतलब हो कि वार्ड सदस्य ललीता देवी के बयान पर हमले को लेकर केस दर्ज किया गया है। प्राथमिकी में चमरपुर गांव निवासी आकाश ¨सह समेत दो अज्ञात को आरोपी बनाया गया है। घटना के बाद से मुख्य आरोपी फरार बताया जाता है। घटना के मूल में ठेकेदारी संबंधी विवाद की बात सामने आ रही है। घायल चैत चौधरी (48वर्ष) लक्ष्मणपुर गांव निवासी गांधी चौधरी का पुत्र बताया जाता है।

आठ जनवरी को मारी गई थी गोली

सनद हो कि शाहपुर थाना के बहोरनपुर ओपी के लक्ष्मणपुर गांव निवासी ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य ललीता देवी के पति चैत चौधरी आठ जनवरी की शाम गांव के बाधार में शौच के लिए गए । इस बीच रास्ते में हथियार बंद दबंगों ने वार्ड सदस्या के पति को घेर लिया था। इसके बाद ताबड़तोड़ फाय¨रग शुरू कर दी थी। हमले में दो गोली लगने से वार्ड सदस्या पति चैत चौधरी गंभीर रूप से घायल हो गया था। घटना को अंजाम देने के बाद हथियार बंद तत्व भाग निकले थे। इसके बाद घायल को इलाज के लिए सदर अस्पताल,आरा लाया गया था। जहां से गंभीर हालत को देखकर डॉक्टर ने उसे पीएमसीएच, पटना रेफर कर दिया था। बाद में सूचना मिलने पर पुलिस भी वहां पहुंच गई थी। लेकिन, हमलावर भाग गए थे।

चार बच्चों के सिर से उठा पिता का साया

शाहपुर थाना के बहोरनपुर ओपी के लक्ष्मणपुर गांव निवासी ग्राम पंचायत की वार्ड सदस्य ललीता देवी के पति चैत चौधरी की हत्या के बाद परिवार का दुखो का पहाड़ टूट पड़ा है। पटना के निजी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत के बाद जैसे ही यह सूचना परिवार के सदस्यों को मिली घर पर कोहराम मच गया। पति के वियोग में ललीता देवी का रो-रोकर बुरा हाल था। आसपड़ोस की महिलाएं ढांढस बंधाने में लगी हुई थी। पिता की मौत के बाद पुत्री रानी कुमारी (10वर्ष), पुत्र ¨प्रस कुमार (7वर्ष), धनु कुमार (5,वर्ष) व मनीष कुमार (2वर्ष) के सिर से हमेशा के लिए पिता का साया उठ गया है। पत्नी के क्रंदन से संपूर्ण गांव का माहौल गमगीन हो गया था।

एक बार खुद जीता था और दूसरी बार पत्नी को बनवाया था वार्ड सदस्य

बहोरनपुर ओपी के लक्ष्मणपी गांव निवासी स्व. गांधी चौधरी का पुत्र चैत चौधरी लगातार दो बार ग्री वार्ड सदस्य के पद पर निर्वाचित हुआ था। साल 2010 के चुनाव में खुद निर्वाचित हुआ था। इसके बाद संबंधित सीट महिला आरक्षित हो गया था। बाद में 2015 के चुनाव में अपनी पत्नी ललीता देवी को चुनाव लड़वाया था। दूसरी बार निर्वाचित होने के बाद वार्ड में योजना का फंड आने लगा था। जिसमें काम कराने को.लेकर दूसरे ठेकेदार भी दबाव बनाना शुरू कर दिए थे। इस दौरान आठ जनवरी को भी वाद विवाद हुआ था। जिसके बाद दबंगों ने उसे दो गोली मारी थी। जिसके बाद उसकी मौत हो गई।

About the author

Aditya Prakash Srivastva