उत्तर प्रदेश कुशीनगर क्राइम

कुशीनगर : आखिर जहरीली शराब से हो रहीं मौत का असली जिम्मेदार कौन

News
  •  
  •  
  •  
  • 5
  •  
  •  
  •  
  •  
    5
    Shares

सुनील तिवारी kknews24

कुशीनगर। जनपद के तरयासुजान थाना क्षेत्र में गत दिनों नौ लोगों की 3 दिन में जहरीली शराब पीने से हुई मौत आखिर असली जिम्मेदार कौन है,यह कारोबार कई दशक से जनपद में फल फूल रहा है,यह कांड़ प्रशासन सहित सरकार को हिला कर रख दिया है। चर्चाओं की माने तो इस कांड के सूत्रधार पूर्व थाना प्रभारी ही नहीं बल्कि इसका जिम्मेदार आबकारी विभाग भी रहा, इस अवैध कारोबार की जानकारी होने के बावजूद लगाम लगाने के जगह इनके सिपाही वसूली में मस्त रहे जिसका परिणाम है कि अब तक जहरीली शराब पीने से 11लोग काल के गाल में समा चुके है और इनके मरने का सिलसिला जारी है, बताया जाता है कि पडरौना कोतवाली के सिधुआं स्थान निवासी पारस यादव शनिवार की रात कच्ची शराब पीने से मौत हो गई लेकिन यह मामला वहां के कुछ संभ्रांत लोगों द्वारा दबा दिया गया । और शव को पीएम कराने के बजाय उसका दाह संस्कार कर दिया गया ।जिससे लगता है कि शराब का कारोबार चरम सीमा पर चल रहा है,बताया जाता है कि हेतिमपुर अभी यह कारोबार चरम सीमा पर चल रहा है। पुलिस से मिलीभगत होने से कारोबारी थाना क्षेत्र के कई गांव मिनी फैक्ट्री में तब्दील कर मौत का सौदागर बना दिए है। बिहार सीमा से सटे होने के कारण तरयासुजान थाना क्षेत्र समूचे जनपद में अवैध कमाई के लिए मशहूर माना जाता है, उक्त किसी भी थानेदार की तैनाती रहा हो यह अवैध शराब का कारोबार में तेजी ही आती देखी गई है,पहले से सफेदपोश की आड़ में जो हरियाणा पंजाब में अंग्रेजी शराब अन्य प्रांतों में बिक्री के लिए जाती है, उसे ट्रक व लग्जरी वाहनों के माध्यम से बिहार जहां शराब पर सरकार ने प्रतिबंध लगा दिया है वहां के लिए उसी थाने क्षेत्र से तस्करी होती रही हैं, पुलिस का निश्चित रूप से हिस्सा होता है कोरम पूर्ति के लिए पुलिस कभी-कभार वाहनों को पकड़कर अपनी पीठ थपथपा लेती हैं ,दूसरे तमाम अपराधी प्रवृति वाले लोग इसमें संलिप्त रहे हैं और उस से निर्मित शराब ना सिर्फ थाना क्षेत्र में बेची जाती है बल्कि इसे बिहार तक तस्करी के लिए पहुंचाया जाता रहा है, यह सब कुछ होना बताया जा रहा है ।

About the author

Aditya Prakash Srivastva