पश्चिमी चम्पारण बिहार राज्य वाल्मीकीनगर

वाल्मिकीनगर(प.चं.) : पीसीसी सड़क निर्माण में अनिमियता, जमकर किया जा रहा घटिया निर्माण, अधिकारी बने धृतराष्ट्र

News
  •  
  •  
  •  
  • 5
  •  
  •  
  •  
  •  
    5
    Shares

राजेश पाण्डेय, कुशीनगर केसरी/kknews24 वाल्मिकीनगर(प.चं.) बिहार(१३ मार्च)। पुलिस जिला बगहां के बाल्मीकिनगर थाना क्षेत्र शिवनाहा में हो रहे पीसीसी सड़क के निर्माण में ठेकेदार के द्वारा  घटिया किस्म के  मैटेरियल का प्रयोग किया जा रहा है और  सरकार को चुना लगाने का काम किया जा रहा है। वहीं  अधिकारी घटिया किस्म के काम को देखते हुए भी  धृतराष्ट्र बने पड़े हैं।

ग्रामीण विभाग के अधिकारियों के साथ ही कनीय अभियंता एवम ठेकेदार के मिली भगत से ग्रामीण विकास विभाग कार्यालय के द्वारा आवंटन के बाद पीसीसी निर्माण कार्य मे अनिमियता एक से बढ़कर एक देखा गया है। बगहा दो प्रखण्ड के पंचायत चम्पापुर-गुनोली से सटे वार्ड में पी सी सी निर्माण में अनिमियता के साथ ही घटिया कार्य को अंजाम दिया जा रहा है। ग्रामीण कार्य विभाग कार्य प्रमंडल, बगहा-१ के कनीय अभियंता के मिली भगत एवं ठीकेदार के बीच रुपये का बंदर बाँट करते हुए संवेदक के द्वारा कार्य को पूर्ण करने में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन घटिया पीसीसी निर्माण कार्य को पूरा किया जा रहा है।
ठेकेदार एवं कनीय अभियंता के मिली भगत से पीसीसी कार्य में घटिया बालू के साथ ही उजला गिट्टी का भी मिश्रण एवं घटिया सीमेंट, लोकल गिट्टी का मिश्रण करने के साथ ही कभी भी ठेकेदार के द्वारा पानी का छिड़काव भी नहीं किया गया है।

ग्रामीणों ने बताया की संवेदक के द्वारा लगाया गया साम्रगी में हर तरफ़ से घटिया समान का फायदा उठाते हुए इस पीसीसी के कार्य को अंजाम तक पहुचाने में सफल साबित हो रहे है और निर्माण कार्य में ना कभी पानी का इस्तेमाल किया, ना ही बढ़िया सीमेंट का प्रयोग किया, ना बढ़िया बालू का प्रयोग किया गया है और कार्य स्थल पर अभी भी आप देखे कि लोकल बालू और लोकल गिट्टी जो दिख रहा है। वहीं ठीकेदार अभियंता के मिलीभगत से अपनी जेब गर्म करने के चक्कर में यह काम करते है। जब से यह कार्य को शुुरु किया गया है कभी इस कार्य स्थल पर कोई भी अधिकारी जांच करने नही पहुचा हुआ है।
ग्रामीणों ने कहा कि अभी तक ऐसा अनिमियता कार्य कभी भी नहीं देखने को मिला है और कार्य पूर्ण रूप से हो जाने पर संवेदक अपना बोरिया बिस्तर बांध कर अपने घर के लिए प्रस्थान कर सरकार के खजाने को लूटा जा रहा है बिहार-सरकार रोज़ ये कहकर सांत्वना देती है कि अब हर गांव-देहात को पीसीसी रोड़ का निर्माण हो रहा है वही संवेदक के द्वारा घटिया निर्माण करते हुए सप्ताह भर में ही महीने के कार्य को ख़त्म करके लाखों रुपए के घोटालों को अंजाम ठीकेदार कर बैठते है और अपनी जेबें भी गर्म करके अन्य अधिकारीयो को नजराना देकर अपना काम निकलवा लेते है। ग्रामीणों को हर परिस्थिति का सामना करते हुए चुप रह कर बैठे हुए इस आशा पर रहते है। पीसीसी निर्माण कार्य को अगर गुणवत्ता से जाँच पड़ताल कर ऐसे लोगों के प्रति कानूनी करवाई किया जाय और अपने नाम-काम के साथ सांसद को भी बदनाम करने तूल जाते है उन भ्रष्ट ठेकेदारों का सहयोग विभाग में बैठे धृतराष्ट्र बने अधिकारी करते हैं।

About the author

Aditya Prakash Srivastva

Leave a Comment