उत्तर प्रदेश कुशीनगर क्राइम

कुशीनगरःप्रेम प्रसंग में चाचा भतीजा ने मिलकर कुलदीप को उतारा था मौत के घाट

News
  •  
  •  
  •  
  • 4
  •  
  •  
  •  
  •  
    4
    Shares

सुनील कुमार तिवारीkknews24

कुशीनगर। जनपद में लखमीपुर खीरी निवासी एक युवक की प्रेम प्रसंग में गोली मारकर हुई हत्या के मामले में पुलिस ने पटाक्षेप कर दिया है। इस हत्याकांड का खुलासा करते हुए एसपी गौरव वंशवाल ने बताया कि गत 8 मार्च की रात प्रेमी को प्रेमिका के चाचा और भतीजे ने घर बुलाकर उसके कनपटी पर तमंचा लगा गोलीमार मौत के घाट उतार दिया था। पुलिस ने इस मामले में भारतीय दंड विधान की धारा 302 201 आईपीसी के तहत मुकदमा पंजीकृत कर इस मर्डर केस में शामिल दोनो को गिरफ्तार कर लिया है और उन्हें मजिस्ट्रेट के समक्ष प्रस्तुत करने के पश्चात जेल के लिए रवाना कर दिया।

इस बावत आज शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक गौरव बंसवाल ने बताया एक सप्ताह के करीब कुबेरस्थान थाना क्षेत्र के पचरुखिया गांव के पास बांसी नदी में लखीमपुर खीरी जनपद के नरदी थाना क्षेत्र के पसगावा गांव निवासी कुलदीप की लाश बोरे में राखी मिली थी।उसके पॉकेट में लास वाले बारे से पहचान पत्र कारतूस और जूता दुपट्टा भी मिला था। मृतक के पिता ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया था। पुलिस गहनता से इस मामले में छानबीन कर रही थी ।उन्होंने बताया कि उसकी शादी रूद्रवलि थाना तुर्कपट्टी में तय हुई थी ।किसी कारणवश शादी करने से युवती के परिजनों ने इनकार कर दिया था ।लेकिन कुलदीप हमेशा यूवती से मिलने आया करता था ,जिस पर परिजनों ने कई बार एतराज जताया लेकिन वह किसी कीमत पर मानने को तैयार नहीं था ।जिससे खार खाए लड़की के चाचा नरेंद्र यादव पुत्र बिकाऊ निवासियों रूदवलिया थाना तुर्कपट्टी राजकुमार यादव उर्फ मंटू निवासी उक्त ने सोची-समझी साजिश के तहत हत्या की नियत से कुलदीप यादव को 8 मार्च को घर बुलाया और मकान के अंदर कमरे में ले जाकर कनपटी पर तमंचा सटा गोली मार दी उसके बाद लाश को बोरी में भरकर पचरुखिया गांव के बांसी नदी पुल के नीचे थे दिए थे। उन्होंने बताया कि दोनों अभी भागने की फिराक में थे की पुलिस ने दोनों अभियुक्तों को मुखबीर जरिए मिली सूचना पर गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से एक अदद कट्टा 315 बोर कारतूस भी बरामद हुआ दोनों अभियुक्तों के खिलाफ दर्ज मुकदमे की धारा में पुलिस ने जेल भेज दिया है ।इस घटना का सफल अनावरण करने में कुबेरस्थान एस ओ राम आशीष सिंह यादव कांस्टेबल राजेश कुमार सिंह जय कुमार सिंह कमलापति तिवारी का सराहनीय योगदान रहा।

About the author

Aditya Prakash Srivastva

Leave a Comment