उत्तर प्रदेश कुशीनगर क्राइम

कुशीनगरः एसपी ने कसें थानेदारों के पेंच,किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं

News
  •  
  •  
  •  
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

सुनील कुमार तिवारीkknews24
कुशीनगर। पुलिस अधीक्षक कुशीनगर राजीव नारायण मिश्र द्वारा मासिक अपराध गोष्ठी कर अपराध एवं अपराधियों पर प्रभावी नियन्त्रण एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने हेतु दिये गये आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये।

इस दौरान एसपी राजीव नारायण मिश्र द्वारा आज समय 11:00 बजे पुलिस लाइन्स स्थित सभाकक्ष में मासिक अपराध गोष्ठी का आयोजन कर जनपद की कानून-व्यवस्था की समीक्षा की गयी। गोष्ठी का प्रारम्भ जनपद के विभिन्न थानों से आये पुलिस कर्मियों के साथ सैनिक सम्मेलन किया गया। जिसमें अधिकारी/कर्मचारीगण द्वारा पूर्व में बतायी गयी समस्याओं के निराकरण की जानकारी ली गयी तथा सम्मेलन के दौरान कतिपय कर्मियों द्वारा समस्याए बताई गयी, जिसमें त्वरित कार्यवाही करते हुये निस्तारण हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया गया तथा आगामी लोक सभा चुनाव के दृष्टिगत तैयारियों की समीक्षा की गयी / आदर्श आचार संहिता का कड़ाई से पालन करने हेतु निर्देश भी दिये गये।
*अपराध गोष्ठी में लोक सभा चुनाव / आगामी त्यौहार के दृष्टिगत निम्न बिन्दुओं पर विशेष ध्यान देते हुये आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया-*
1- थानावार अपराध की समीक्षा कर सम्बन्धित को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गयें।
2- अनावरण हेतु शेष महत्वपूर्ण अपराधों के सफल अनावरण हेतु निर्देशित किया गया।
3- एस0आर0 मुकदमों में वांछित अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए कड़े निर्देश दिये गये।
4- 06 माह से अधिक समय से लम्बित विवेचनाओं को सूचीबध्द कर अभियान चलाकर गुण-दोष के आधार पर निस्तारण करनें के लिए निर्देश दिये गये।
5- पोस्टल बैलेट से सम्बन्धित (फार्म-12) को शत-प्रतिशत भर कर समयबध्द आवश्यक कार्यवाही करनें के लिए समस्त अधि0/कर्म0 को निर्देशित किया गया।
6- जनपद के ऐसे शस्त्र धारक जिनका आपराधिक इतिहास हो उनको चिन्हित कर शस्त्र निरस्तीकरण के लिए आवश्यक कार्यवाही करनें के लिए बताया गया।
7- चुनाव में आने वाले बाह्य फोर्स के लिए आवासीय व्यवस्था के लिए संबन्धित को पुनः भ्रमण कर व्यवस्थित करनें के लिए बताया गया।
8- आगामी चुनाव के मद्देनजर बैरियर प्वाइंट लगनें वाले स्थानों को चिन्हित कर पर्याप्त पुलिस बल के साथ चेकिंग करनें हेतु निर्देशित किया गया।
9- भारत निर्वाचन आयोग द्वारा प्राप्त विभिन्न निर्देशों/आदेशों का कड़ाई से पालन किया जाय।
10- असमाजिक तत्वों का चिन्हांकन एंव प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही की जाय।
11- गौ तस्करी / गौकसी के अपराधों पर जीरो टालरेन्स रखते हुए पुर्णतया प्रतिबन्धित रखे तथा इससे संबन्धित वांछित अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु कड़े निर्देश भी दिये गये।
12- अवैध शराब निष्कर्षण/ बिक्री,मादक पदार्थों की बिक्री, अवैध बालू खनन, मिटटी खनन करने वालो का चिन्हांकन कर उनके विरूद्ध कार्यवाही किया जाय ।
13- हत्या, बलात्कार, लूट, डकैती, चोरी के अपराधो पर पूर्णतया अंकुश लगाने व प्रभावी कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया।
14- टॉप टेन /टॉप फाइप में चिन्हित अपराधियों व 05 वर्षीय अपराधियों के विरूद्ध कार्यवाही किया जाये।
15- थानों मे पड़े मालों का निस्तारण किया जाय। लावारिस, लादावा, केस प्रापर्टी, आर0टी0ओ0 द्वारा दाखिल वाहनों का नियमानुसार निस्तारण किया जाये ।
16- विवेचनाओं के निस्तारण, पुराने मालों के निस्तारण, जनता द्वारा दिये गये शिकायती प्रर्थना पत्रों के निस्तारण के सम्बन्ध में कड़े निर्देश दिये गये। शहर व ग्रामीण इलाकों में रात्रि गश्त बढ़ाने व साइबर अपराध के रोकथाम सम्बन्धी प्रचार-प्रसार, अभियुक्तों के प्रति वैधानिक कार्यवाही, वांछित / वारंटियों की शत प्रतिशत गिरफ्तारी किये जाने व निरोधात्मक कार्यवाही में गुण्डा अधिनियम, गैंगेस्टर अधिनियम व रासुका के अन्तर्गत कार्यवाही किये जाने आदि बिन्दुओं पर निर्देश दिया गया ।
17- पुरस्कार घोषित अपराधियों के बारे में समीक्षा कर उनकी शीघ्र गिरफ्तारी करने के लिए कड़े निर्देश दिये गये।

उक्त गोष्ठी में पुलिस अधीक्षक उत्तरी, समस्त क्षेत्राधिकारी, प्रतिसार निरीक्षक, निरीक्षक प्रज्ञानशाखा, निरीक्षक रेडियोशाखा, समस्त प्रभारी निरीक्षक /थानाध्यक्ष, आशुलिपिक पुलिस अधीक्षक, प्रधान लिपिक, प्रभारी आंकिक शाखा, प्रभारी मीडिया सेल, प्रभारी डीसीआरबी शाखा, प्रभारी विशेष जॉच प्रकोष्ठ, प्रभारी विशेष शिकायत प्रकोष सभी थानेदार उपस्थित रहे।

About the author

Aditya Prakash Srivastva