उत्तर प्रदेश मऊ राज्य

मऊ :: दोहरीघाट पेट्रोल पंप लूट का मऊ पुलिस ने किया खुलासा

News
  •  
  •  
  •  
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
    2
    Shares

डेस्क, कुशीनगर केसरी/kknews24 मऊ(१४ अप्रैल)। जनपद में अपराध एवं अपराधियों पर अंकुश लगाये जाने हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक श्री शैलेन्द्र कुमार श्रीवास्तव के नेतृत्व में स्वाट टीम व थाना दोहरीघाट पुलिस को उस समय अहम सफलता हाथ लगी जब आजमगढ़ बार्डर पर स्थित मादी सिपाह बैरियर के पास से पुलिस ने चेकिंग के दौरान मुखबिर की सूचना पर थाना दोहरीघाट में पंजीकृत मु0अ0सं0 130/19 धारा 394 से सम्बन्धित तीन शातिर अपराधियों को पुलिस मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया और उनके कब्जे से पेट्रोल पंप लूट के 07 लाख 02 हजार 600 रुपये व लूट की घटना में इस्तेमाल की गई पिस्टल व तमंचा बरामद कर अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया। मुठभेड़ के दौरान लूट का गैंग लीडर घटना में प्रयुक्त मोटरसाईकिल लेकर भागने में सफल रहा।

मऊ पुलिस अधीक्षक श्री सुरेन्द्र बहादुर ने पत्रकारों से वार्ता के दौरान बताया कि 8 तारीख को सुबह 9: 45 मिनट पर दोहरीघाट में स्थित गुप्ता पेट्रोल पंप मालिक रामअवध प्रसाद गुप्ता के लड़के उमेश चन्द्र गुप्ता के द्वारा 18 लाख 90 हजार रुपये यूबीआई बैंक कस्बा दोहरीघाट में जमा करने के लिए ले जा रहे थे कि तीन अज्ञात बदमाशों द्वारा बैंक के नजदीक ही गोली मारकर रुपयों से भरा छीन लिया गया था। पुलिस द्वारा पूछताछ में उक्त अभियुक्तो द्वारा अपना नाम पता क्रमशः प्रेम साहनी पुत्र शिवशंकर साहनी निवासी पादरी बाजार मोहनापुर थाना शाहपुर जनपद गोरखपुर, गणेश गौड़ पुत्र राधेश्याम गौड़ निवासी माधवपुर थाना तिवारीपुर गोरखपुर एवं विशाल उर्फ मंटू निषाद पुत्र अशोक निवासी माधवपुर थाना तिवारीपुर गोरखपुर बताया गया। कड़ाई से पूछताछ के दौरन अपराधियों ने बताया कि हमारे गैंग के लीडर विजेन्द्र नरायण राय उर्फ झिंकू राय पुत्र प्रसिद्ध नरायण राय निवासी सडौली थाना गोला जनपद गोरखपुर है। लूट काण्ड के गिरफ्तार अभियुक्तों ने बताया कि घटना के पूर्व इस लूट की योजना बनाया था तथा घटना के पूर्व ही हम लोग के साथ दोहरीघाट आकर उमेश गुप्ता के घर, पेट्रोल पंप व बैंक को देखा था। घटना वाले दिन भी हम लोग विजेन्द्र नरायण के साथ सुबह करीब 07ः30 बजे ही दोहरीघाट दो मोटरसाईकिलों से आ गये थे। उस दिन भी विजेन्द्र उपरोक्त ने हम लोगों को पुनः उमेश का घर व बैंक जाने का रास्ता दिखाया था तथा कैसे घटना को अंजाम देना है यह भी समझाया गया था। घटना के समय वह खुद उमेश गुप्ता के घर वाले मोड़ पर खड़ा था हम लोग उससे थोड़ा आगे बैंक मोड़ के पास थे, जैसे ही उमेश घर से अपनी स्कूटी से रुपयों का बैग लेकर निकले विजेन्द्र ने हम लोगों को इशारा करके बताया कि यह जा रहा है तथा जैसे ही उमेश हम लोगों को क्रास किया हम तुरन्त उसके पीछे लग गये तथा बैंक से थोड़े पहले ही रास्ता पूछने के बहाने उसको रोका तथा उसी समय विशाल उर्फ मंटू ने उसकी आंख में मिर्च का पाउडर झोंक दिया तथा गणेश रुपये से भरा बैग स्कूटी से निकालकर भागना चाहा कि उमेश ने उसे पकड़ लिया तभी गणेश ने अपने आप को छुड़ाने के लिये अपनी पिस्टल से उमेश के पेट में गोली मार दिया तथा मेरा साथी प्रेम साहनी पास ही हीरो सीडी डिलक्स एचएफ मोटरसाईकिल लेकर खड़ा था हम लोग तुरन्त उसी मोटरसाईकिल से आजमगढ़ की तरफ भागे, फिर वहां से कुछ दूरी पर ही विजेन्द्र उपरोक्त हम लोगों को लाल रंग की अपाचे गाड़ी से मिला, हम लोग आजमगढ़ होते हुये बनारस चले गये तथा वहीं पर घूम – फिरकर वहीं रह रहे थे। भागते समय ही आजमगढ़ से हम लोगों ने एक दूसरा बैग खरीद लिया था तथा जो रुपयों वाला बैग छीना था उसे व उसमें रखे कुछ रसीदें व कागजात को रास्ते में ही नदी में फेंक दिया था तथा एक सूनसान पर हम लोगों ने पैसे को गिना तो बैग में करीब 14 लाख रुपये ही थे जिसको हम लोगों ने आपस में बांटा था, हम तीनों को ढाई-ढाई लाख रुपये हिस्से में मिला था शेष रुपये हमारे गैंग लीडर विजेन्द्र उर्फ झिंकू राय ने ले लिया था। आज हम लोग मामला सब शांत होने पर घर की तरफ वापस आ रहे थे कि आप लोगों द्वारा पकड़ लिया गया यह भी उल्लेखनीय है कि इसी विजेन्द्र उर्फ झिंकू राय उपरोक्त के कहने पर गणेश गौड़ व विशाल उर्फ मंटू निषाद उपरोक्त ने पिछले वर्ष थाना क्षेत्र तिवारीपुर गोरखपुर में ही एक हत्या कर दिये थे तथा जेल गये थे, जो इस लूट की घटना के कुछ दिन पूर्व जमानत पर रिहा होकर आये हैं जिसमें विजेन्द्र उर्फ झिंकू राय उक्त हत्या के मामले में थाना तिवारीपुर से वांछित भी चल रहा है जिसकी गिरफ्तारी हेतु गम्भीरतपूर्वक प्रयास किया जा रहा है। प्रेम साहनी पुत्र शिवशंकर साहनी निवासी पादरी बाजार मोहनापुर थाना शाहपुर जनपद गोरखपुर। पुलिस ने लूट के 07 लाख 02 हजार 600 रुपये बरामद कर लिया साथ ही घटना में प्रयुक्त देशी पिस्टल 32 बोर व 02 जिंदा व 01 खोखा कारतूस 32 बोर बरामद किया। 02 अदद देशी तमंचा 315 बोर एवं 04 जिंदा व एक खोखा कारतूस 315 बोर भी बरामद किया घटना में प्रयोग किया गया मोटर साइकिल अपाचे बिना नम्बर का पुलिस ने बरामद किया। पेट्रोल पंप लूट का मऊ स्वाट टीम एवं दोहरीघाट पुलिस ने मिलकर खुलासा किया पुलिस टीम में निरीक्षक अविनाश कुमार सिंह, प्रभारी स्वाट टीम, उ0नि0 अमित मिश्रा, एचसी जवाहर सरोज, ज्ञानचन्द्र मौर्या, का0 सर्वेश यादव, अवधेश यादव, विवेक पाण्डेय, नीरज शर्मा, सुशील यादव, अजय यादव, अनिल यादव स्वाट टीम, विवेक सिंह, संजय सिंह, अविनाश वर्मा सर्विलांस सेल प्रभारी निरीक्षक दोहरीघाट नीरज पाठक, उ0नि0 सुभाष चन्द्र, एचसी धर्मेन्द्र सिंह, का0 देवेस सिंह, विशाल सिंह, सुधीर यादव टीम में शामिल रहे। गिरफ्तारकर्ता पुलिस टीम को उत्साहवर्धन हेतु 25 हजार रुपये के नगर पुरस्कार से पुलिस अधीक्षक ने पुरस्कृत किया।

About the author

Aditya Prakash Srivastva

Leave a Comment