क्राइम

कुशीनगर :: जमीनी विवाद में दो पक्षों में हुई मारपीट के दौरान महिला की मौत,पांच के खिलाफ केस दर्ज

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सुनील तिवारीkknews24कुशीनगर(१४ मई)। कोतवाली पडरौना थाना क्षेत्र के सिधुआ बाजार में सोमवार को दो पडोसी द्वारा जमीनी विवाद को लेकर हुई मारपीट में एक 35 वर्षीय विवाहिता की इलाज के दौरान मौत हो जाने के मामले में मृतका के परिजनों व ग्रामीणों ने पडरौना तमकुही रोड मार्ग सिधुआ बाजार पुलिस चौकी के सामने सड़क पर मृतका की लाश रखकर जमकर बवाल काटा,इस दौरान सड़क जाम किए मृतका के परिजनों और ग्रामीणों को कोतवाली पुलिस ने समझाने का प्रयास घंटों तक करते रहे लेकिन ग्रामीण मानने को तैयार नहीं थे इस मामले में पुलिस ने पीड़ित रामेश्वर कुशवाहा की शरीर पर भारतीय दंड विधान की धारा 147 323 504 304 आईपीसी के तहत त्रिलोकी कुशवाहा सहित 5 लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा पंजीकृत कर अगली कार्यवाही में जुटी हुई है।

हालांकि मृतका के परिजनों का आरोप था कि विपक्ष के घर वालों के द्वारा मारने के वजह से घायल महिला की मौत हुई है,वहीं सड़क जाम किए लोगों ने पुलिस से मारपीट कर घायल करने के बाद फरार हो चुके पड़ोसियों के ऊपर हत्या का मुकदमा दर्ज कर तत्काल गिरफ्तारी करने की मांग पर अड़े हुए थे कि,पुलिस द्वारा सड़क जाम किए लोगों को पूरी तरह आरोपियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत हो गया है,और जल्द ही गिरफ्तारी हो जाएगी जबकि सड़क से,ग्रामीणों लास को हटाने के लिए के लिए बोल ही रहे थे कि पुलिस की आश्वासन पर भरोसा न कर मृतका के परिजन व ग्रामीण सड़क जाम कर विरोध प्रदर्शन करने पर तुले हुए गए,ऐसे में पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा,इस दौरान पुलिस द्वारा लाठी चार्ज होते ही अफरा-तफरी का माहौल कायम हो गया ।

बताते चलें कि कोतवाली पडरौना थाना क्षेत्र के जंगल बनवीरपुर सिधुआ बाजार निवासी रामेश्वर उर्फ खेलाड़ी कुशवाहा की 35 वर्षीय पत्नी शकुंतला देवी सोमवार को घर के बगल ही एक गुण व्यवसाई के यहां मजदूरी करने गई हुई थी,बताया जाता है कि पडोसी से जमीनी विवाद को लेकर कहासुनी होने के बाद गाली गलौज हो गया था,की शकुंतला को लोगों ने इसकी सूचना दे दी थी,शकुंतला गुड़ प्लांट से मजदूरी का काम छोड़ घर के पर आई शकुंतला के घर वालों व पड़ोसियों के घर वालों से आपस में गाली गलौज होते होते मारपीट में तब्दील हो गया,जहां दोनों ओर से हुई मारपीट में शकुंतला के सर में काफी गंभीर चोट आने के वजह से बेहोश होकर गिर चुकी शकुंतला को बेहोशी के हालात में आनन-फानन में परिजन जिला अस्पताल इलाज के लिए पहुंचे थे कि डॉक्टरों ने शकुंतला के हालत को नाजुक देखते हुए मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया।ऐसे में जिला अस्पताल के चिकित्सकों द्वारा शकुंतला को रेफर करने के बाद मेडिकल कॉलेज गोरखपुर के लिए इलाज कराने लेकर गए परिजनों को मेडिकल कॉलेज के से जुड़े वरिष्ठ चिकित्सकों ने महिला के सिर में गंभीर चोट आने के वजह से पीजीआई के लिए रेफर कर दिया। मृतका के परिजनों की मानें तो गंभीर हालत में मेडिकल कॉलेज से रेफर हो चुकी उक्त महिला को इलाज के लिए परिजनों के पास समुचित इलाज के लिए पैसा न होने के कारण पुन :उक्त महिला को जिला अस्पताल में लेकर आए थे, जहां महिला के इलाज चल रहा था कि मंगलवार की सुबह भोर में उसकी मौत हो गई। शकुंतला की मौत की सूचना के बाद कोतवाली पडरौना की पुलिस ने महिला के शव को कब्जे में लेकर पंचनामा बनवा कर पोस्टमार्टम कराने के बाद शव को घर भेज दिया था कि, पहले से ही मृतका शकुंतला के मौत से गुस्साए परिजन व ग्रामीण लाश को लेकर पडरौना तमकुही रोड मार्ग सिधुआ बाजार पुलिस चौकी के सामने सड़क को जाम कर दिया,इस दौरान सूचना पर भारी मात्रा में पहुंची कोतवाली पुलिस ने पहले मृतक के परिजनों व ग्रामीणों को पूरी तरह से स्पष्ट रूप से संतुष्ट करते हुए पुलिस ने यह बता दिया कि आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है,और जल्द ही गिरफ्तारी हो जाएगी लेकिन, ग्रामीण कोतवाली पुलिस द्वारा किए गए आरोपियों के खिलाफ दर्ज मुकदमा के धाराओं में तब्दील कराने के अलावा घर छोड़कर फरार चल रहे आरोपियों को तत्काल गिरफ्तारी करने की मांग को लेकर अड़ गए, कोतवाली पुलिस ने करीब सड़क जाम किए ग्रामीणों को 3 घंटे तक समझाते बुझाते रहें,लेकिन ग्रामीण मानने को तैयार नहीं हो रहे थे कि मजबूरन में कोतवाली पडरौना पुलिस को लाठीचार्ज कर भीड़ को तितर-बितर करना पड़ा तब जाकर किसी तरह मामला शांत हो सका,ऐसे में पडरौना तमकुही रोड मार्ग सिधुआ बाजार में ग्रामीणों द्वारा सड़क को जाम करने से करीब 3 घंटे तक लोगों की आवाजाही पूरी तरह से बाधित हो गई थी।

About the author

Aditya Prakash Srivastva