पश्चिमी चम्पारण बगहा बिहार राज्य

बगहा(प.चं.) :: बकरीद ईद-उल-अजहा त्यौहार में ईदगाह व मस्जिदों में नहीं पढ़ाई जाएगी नमाज : एसडीएम

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

::– एसडीएम ने बैठक में मुसलमान भाइयों को त्यौहार की बधाई दी, साथ ही कहा कि घरों पर रहकर पढ़ें बकरीद की नमाज

विजय कुमार शर्मा, कुुशीनगर केसरी/kknews24, बिहार(२० जुलाई)। प्रखंड बगहा दो सभागार में मंगलवार को अनुमंडल पदाधिकारी शेखर आनंद के नेतृत्व में बकरीद त्यौहार को लेकर शांति समिति की बैठक हुई। इस बैठक में एसडीपीओ कैलाश प्रसाद ,प्रशिक्षु डीएसपी राकेश सिंह, नगर सभापति प्रतिनिधि पति फिरोज आलम,बीडीओ कुमार प्रशांत ,सीओ बगहा एक अभिषेक आनंद व दो के सीओ राजीव रंजन कुमार श्रीवास्तव, पटखौली थाना प्रभारी लालबाबू प्रसाद यादव, नगर के ईओ अमित कुमार , भैरोगंज थाना प्रभारी लालबाबू प्रसाद के साथ जनप्रतिनिधि व नगर के लोग आदि मौजूद थे। एसडीएम ने बैठक में कहा कि बकरीद ईद-उल-अजहा का त्यौहार बुधवार को हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा लेकिन कोविड-19 और लॉकडाउन के कारण सरकार द्वारा जारी निर्देश के अनुसार मस्जिदों और ईदगाह में भीड़ को लेकर नमाज नहीं पढ़ाई जाएगी। सभी लोगों से एसडीएम ने अपील कि घरों में रहकर बकरीद की नमाज पढ़ें तथा साथ ही कुर्बानी में साफ सफाई का ध्यान रखें।

बैठक में एसडीपीओ कैलाश प्रसाद कहा कि शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस द्वारा बकरीद त्यौहार पर पुलिस की गश्ती जारी रहेगी । किसी तरह की अप्रिय घटना या सूचना मिले तो तुरंत पुलिस को सूचित करने को कहा। प्रशिक्षु डीएसपी राकेश सिंह ने पुलिस प्रशासन सदैव आपके साथ खड़ा है। सरकार द्वारा जारी निर्देशों के पालन करना जरूरी है। नगर सभापति प्रतिनिधि फिरोज आलम ने कहा कि सरकार द्वारा जारी निर्देशों का पालन किया जाएगा। बकरीद के त्यौहार को हर्षोल्लास और साफ सफाई के साथ मनाने के लिए मुसलमान भाइयों से अपील भी की। वहीं एसडीएम ने नगर के ईओ को ईदगाह और नगर में साफ सफाई करने का निर्देश दिया। बैठक में मौजूद जनप्रतिनिधि नगरवासियों जिनमें राकेश सिंह, आलमगीर रब्बानी, मो. गयासुद्दीन, मनोज कुमार सिंह, विनोद कुशवाहा दयाशंकर सिंह, दीपक राही, मो. इमरान ,मो. जुगनू, मो. राशिद मनोज सिंह आदियों ने सरकार के द्वारा जारी निर्देशों को पालन करते हुए बकरीद का पर्व बनाने की बात कही और साथ ही कहा कि बगहा के लोग हर पर्व में हिंदू मुस्लिम भाई एक साथ मिलकर त्यौहार मनाते हैं। जो एक भाईचारा का मिसाल अब तक बगहा में कायम है और हमेशा कायम रहेगा।

About the author

Aditya Prakash Srivastva