उत्तर प्रदेश कुशीनगर राजनीति राज्य

कुुुशीनगर :: राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संघ कुशीनगर के जिलाध्यक्ष सत्येंद्र पांडेय ने जिलाधिकारी एवं मुख्यचिकित्साधिकारी को सौंपा ज्ञापन

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

डाक्टर धनंजय मिश्र, कुुुशीनगर केसरी/kknews24, कुुुशीनगर(११ अगस्त)। बर्खास्त किए गए स्वास्थ्य कर्मी को पुनः बहाल की जाने के संबंध में जिलाधिकारी एवं मुख्यचिकित्सा अधिकारी को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संघ कुशीनगर के जिलाध्यक्ष सत्येंद्र पांडेय द्वारा ज्ञापन दे कर मांग की गई कि हम स्वास्थ्य कर्मी कोरोना महामारी में रातों दिन अपनी जान जोखिम में डालकर कार्य करते रहे यहां तक कि सप्ताहिक अवकाश भी हम लोगों को नहीं मिला हम लोग अपने परिवार से दूर रह कर कार्य करते रहे।
ज्ञापन में यह संगठन द्वारा मांग की गई है कि जो स्वास्थ्य कर्मी बर्खास्त किये गए हैं कृपया जांच करके एच0आर0 पॉलिसी मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन उत्तर प्रदेश के निर्देशानुसार गलतियां पाने पर अल्पदण्डात्मक करवाई किया जाए न कि बर्खास्त किया जाए । श्री पांडेय जी का कहना है कि हम संविदा कर्मचारियों पर दिमागी व शारीरिक दबाव इतना था कि हम लोगों से कुछ त्रुटियां भी हो सकती है जो स्वाभाविक है इसका मतलब ये नही होता है कि हम अल्प वेतनभोगी संविदा कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया जाय। जबकि मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन उत्तर प्रदेश के एच आर पॉलिसी में ये स्पष्ट निर्देष दिया गया है कि स्वास्थ्य कर्मियों से कुछ त्रुटियां पाई जाती है तो इनका 15 दिन का वेतन रोक दिया जाय या एक वर्ष का वेतन वृद्धि रोक दी जाय अगर ब्लॉक स्तर पर कार्य करता हो तो एक ब्लॉक से दूसरे ब्लॉक पर स्थानांतरित कर दिया जाय।ज्ञापन देने वालों में डॉ रोहित, आशुतोष मिश्रा, डॉ दिलीप गुप्ता महामंत्री, डॉ शिप्रा मिश्रा जिला संघ मीडिया प्रभारी, उमेश तिवारी, सूर्य प्रकाश सिंह DEIC मैनेजर, डॉ अजय राय, डॉ वेदप्रकाश तिवारी, डॉ मकसूद मिश्र, सौरभ समीर तिवारी, आशुतोष तिवारी, दीपक आदि सैकड़ों कर्मी मौजूद रहे।

About the author

Aditya Prakash Srivastva