उत्तर प्रदेश मिर्जापुर राज्य

मिर्जापुर :: धान क्रय केन्द्रो से किसानो को मिले पूरा लाभ, बिचैलियों की घुसपैठ नही होगा बर्दाशत, सभी केन्द्रो पर बोरा, कांटा, छन्ना, पंखा सहित सभी व्यवस्थायें रहे उपलब्ध, 01 नवम्बर से सभी केन्द्र एक साथ किया जायें संचालित : जिलाधिकारी

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अन्नपूर्णा श्रीवास्तव, कुशीनगर केसरी/kknews24, मिर्जापुर(१४ सितंबर)। जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभागार में प्रस्तावित धान क्रय केंन्द्रो की तैयारियो के सम्बन्ध में विभिन्न धान क्रय केन्द्र से सम्बन्धित एजेंसियो के साथ बैठक की गयी। जिसमें जिलाधिकारी ने सभी क्रय एजेंसियो को निर्देशित करते हुये कहा कि सभी केन्द्रो पर बोरा, कांटा, छन्ना, पंखा, स्टोरेज आदि की व्यवस्था पहले से ही सुनिश्चित कर ली जायें ताकि पूरे जनपद के सभी क्रय केन्द्रो पर पहले नवम्बर से धान क्रय की कार्यवाही प्रारम्भ की जा सकें।

उन्होने कहा कि सभी केन्द्रो को 01 नवम्बर से ही संचालित होने है अतएव सभी व्यवस्थाये समय से सुनिश्चित कर ली जायें। जिलाधिकारी ने कहा कि सरकार की मंशा है कि धान क्रय केन्द्रो से सीधे किसानो को पूरा लाभ मिल सकें। जिलाधिकारी ने कहा कि पूरी पारदर्शिता के साथ किसानो को धान बेचने के लिये टोकन नम्बर दिया जाये तथा क्रमवार किसानो नाम व टोकन नम्बर भी रजिस्टर पर दर्ज किया जायें। किसानो के धान का मूल्य समय पर भुगतान करने के लिये सभी क्रय केन्द्रो पर पर्याप्त धन की व्यवस्था उपलब्ध रहें। उन्होने यह भी कहा कि किसी भी केन्द्र पर बिचैलियो के घुसपैठ की शिकायत मिलने पर सम्बन्धित केन्द्र प्रभारी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि क्रय केन्द्रा को इस तरह से निर्धारित किया जाये कि किसानो को अपने धान को बेचने के लिये अधिक दूरी तक जाना न पड़े। जिला खाद्य विपणन अधिकारी ने बताया कि अभी तक चारो तहसीलो में कुल 39 क्रय केन्द्र खोला जाना प्रस्तावित हैं। जिसमें तहसील सदर में 09, लालगंज 08, मड़िहान 07 तथा चुनार में 15 केन्द्र विभिन्न एजेंसियो के द्वारा प्रस्तावि है जबकि वर्ष 2020-21 कुल 100 क्रय केन्द्र विभिन्न एजेंसियो द्वारा जनपद में खोले गये थे। उन्होने बताया कि अब तक प्रस्तावित केन्द्रो में खाद्य विभाग व पी0सी0एफ0 के द्वारा क्रमशः 18-18 केन्द्र, मण्डी समिति एक, भारतीय खाद्य निगत दो केन्द्र खोलने के प्रस्ताव प्राप्त हुये हैं। जिलाधिकारी ने सभी क्रय एजेंसियो को निर्धारित करते हुये कहा कि अपने-अपने मुख्यालय से केन्द्र बढ़ाने हेतु तत्काल प्रस्ताव भेजे ताकि जनपद में कम से कम 70 केन्द्र अवश्य खोले जा सकें। बैठक में अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) श्री शिव प्रताप शुक्ज, नगर मजिस्ट्रेट श्री विनय कुमार सिंह, उपजिलाधिकारी लालगंज श्री अमित शुक्ल, मड़िहान श्री जंग बहादुर के अलावा किसान युनियन के प्रतिनिधिगण भी उपस्थित रहें।

About the author

Aditya Prakash Srivastva

Leave a Comment