उत्तर प्रदेश कुशीनगर राजनीति राज्य

कुशीनगर :: कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच ने साइकिल मार्च निकालकर 11 सूत्रीय मांग जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

डाक्टर धनन्जय मिश्र, कुशीनगर केसरी/kknews24, पडरौना कुशीनगर(०५ अक्टूबर)। कर्मचारी, शिक्षक अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच उत्तर प्रदेश के आह्वान पर समस्त जनपदों में की तरह कुशीनगर में भी संगठन के जिलाध्यक्ष राजकुमार सिंह एवं संयोजक प्रभु नंदन उपाध्याय के आह्वान पर साइकिल मार्च निकालकर 11 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा गया।

जिलाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने कहा की उत्तर प्रदेश में 1 अप्रैल 2005 से लागू नई पेंशन व्यवस्था को समाप्त करते हुए पुरानी पेंशन व्यवस्था बहाल की जाए, राज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश के कर्मचारी शिक्षक अधिकारियों के जो भत्ते इस आशय से निरस्त किए गए हैं कि यह भत्ते केंद्र सरकार द्वारा नहीं दिए जा रहे हैं। भारत सरकार के अनुरूप नगरों के वर्गीकरण को आधार मानकर ग्रेड वेतन के स्थान पर मूल वेतन के अनुसार वाई श्रेणी के नगरों में 10 फीसदी मकान किराया भत्ता प्रदान किया जाए, साथ ही नगर प्रतिकर भत्ता के स्थान पर परिवहन भत्ता बड़े नगरों में न्यूनतम 600 रुपए महंगाई भत्ता एवं छोटे शहरों में ₹400 प्लस महंगाई भत्ता शिशु शिक्षा भत्ता लेखन सामग्री भत्ता आदि सभी का लाभ जोड़कर प्रदान किया जाए। उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों में मूलभूत सुविधाओं यथा फर्नीचर विद्युत खंभे चहारदीवारी शुद्ध पेयजल आदि को की सुविधा उपलब्ध कराई जाए प्रदेश के आकांक्षी एवं दूर-दराज के जनपदों में कार्यरत शिक्षकों को उनके गृह जनपद में के अंतर्जनपदीय स्थानांतरण किया जाए प्रदेश में शिक्षकों के ग्रेड वेतन 4648 ओपन न्यूनतम मूल वेतन क्रम 17100 एक 17140 अथवा 18150 प्रदान किया जाए। स्वास्थ्य विभाग में प्रशिक्षित दवाइयों की को स्थाई किया जाए।

About the author

Aditya Prakash Srivastva