क्राइम पश्चिमी चम्पारण बगहा बिहार राज्य

बगहा(प.चं.) :: बेटे के वियोग में छठ घाट पर बदहवास हुई महिला व्रती, इलाज से पहले हुई मौत

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

विजय कुमार शर्मा, कुशीनगर केसरी/kknews24, बिहार(११ नवंबर)। उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही महापर्व छठ  का समापन हो गया लेकिन छठ पूजा के दौरान ही बगहा में एक दुखद घटना सामने आई है, जहां एक महिला व्रती ने छठ घाट पर हीं दम तोड़ दिया। वही महिला की पहचान रामपुर पंचायत स्थित मलाही टोला निवासी बंशीनाथ शाह की पत्नी सीता देवी के रूप में हुई है।

बताते चलें कि सीता देवी अपने परिवार वालों के साथ घर से कुछ ही दूर पर स्थित मलाही टोला घाट पर छठ करने के लिए गई हुई थी जहा अचानक यह हादसा हो गया मामले की जानकारी देते हुए स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि जैसे ही महिला घाट पर पहुंची हुई थी छठ पूजा शुरू ही हुआ था उसी समय महिला अपने पुत्र को याद कर चीख मारकर रोने लगी। इसी दौरान महिला की सांसें फूलने लगी जिसेसे घाट पर अफरातफरी का माहौल बन गया छठ कमेटी के लोग महिला को उठाकर आनन फानन में अस्पताल ले गए लेकिन महिला की मृत्यु रास्ते में ही हो गई थी बता दे कि मृतक महिला के 3 पुत्र हैं जिसमें एक पुत्र की मृत्यु कुछ दिन पहले हुई थी जिसके बियोग में यह सोच कर ऐशी हालात उत्पन्न हो गई। मृत महिला के बड़े पुत्र अनिरुद्ध साह ने बताया कि तीन भाइयों में सबसे छोटा सुनील बाहर रोजी रोटी की रोजगार के तलाश में जा रहा था उसी दौरान उत्तर प्रदेश के सिसवा रेल्बे स्टेशन पर ट्रेन से गिरकर मौत हो गई थी जिस घटना को बिते 5 महीने हो चुके हैं उसने बताया कि दीपावली के दिन से ही मां बार-बार सुनील को याद कर रही थी और सुनील का नाम लेकर रोने लग रही थी जो छठ पर्ब के दिन छठ घाट पर मृत पुत्र के बारे में सोच सोच कर रो रही थी कि अचानक यह हादसा हो गया वही गांव के लोगों ने बताया कि महिला जिस युवक को याद कर चिल्ला रही थी, उसकी उम्र 25 वर्ष थी युवक की शादी भी हो गई थी जिसके 3 बच्चे भी हैं। युवक हर साल छठ पूजा के तैयारी में तन मन से लगा रहता था जिसके बाद यह घटना को लेकर एक माँ ने उसके बियोग में अपना भी जान खो दिया छठ घाट पर बगहा में हुई इस तरह की घटना के बाद से सारा माहौल काफी गमगीन हो गया था।

About the author

Aditya Prakash Srivastva