उत्तर प्रदेश कुशीनगर राजनीति राज्य

कुशीनगर :: सदर विधायक व कैबिनेट मंत्री ने प्रेसवार्ता के दौरान गिनाई श्रम विभाग की उपलब्धियां, 29 नवंबर को होगा ढ़ाई हजार श्रमिकों के बच्चियों की शादी

News
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

आदित्य प्रकाश श्रीवास्तव, कुशीनगर केसरी/kknews24, पडरौना, कुशीनगर। सदर विधायक व कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने पड़रौना के एक स्थानीय होटल में मीड़िया से रूबरू होते हुए बताया कि कुशीनगर में 29 नवम्बर को 2500 गरीब बेटियों की सामूहिक विवाह कार्यक्रम होने जा रहा है, साथ ही श्री मौर्य ने कहा पूर्व की सरकार में एक लाख 83 हजार रोजगार देने का कार्य किया था तो वही वर्तमान सरकार में ये आकड़ा पॉच लाख तक पहुंचा दिया है। श्री मौर्य ने श्रमिकों के लिए महत्वाकांक्षी योजना पर प्रकाश डालते हुए कहा कि कई योजनाओं पर उत्तर प्रदेश सरकार कार्य कर रही है।
उत्तर प्रदेश के श्रम सेवा योजन कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि उत्तर प्रदेश कि वर्तमान सरकार के दौरान श्रमिकों का पंजीयन और नवीकरण में अपार बढ़ोतरी देखने को मिली है जबकि पिछले सरकारों में श्रमिकों का पंजीयन ना के बराबर था। आगे श्री मौर्य ने कहा कि कोरोना महामारी को देखते हुए हमने श्रमिक पंजीयन को निशुल्क कराया था और शुल्क की भी पंजीयन और नवीनीकरण का ₹50 रुपये से घटाकर ₹20 रुपये कर दिया है। आगे कैबिनेट मंत्री ने बताया कि अब श्रमिकों को श्रम विभाग के अधिकारियों व बाबूओं का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा क्योंकि अब श्रमिकों का पंजीयन ऑनलाइन कर दिया गया है। आगे श्री मौर्य ने बताया कि पिछली सरकार में श्रमिकों का पंजीयन 34 लाख था और हमारी सरकार के आने पर यह बढ़कर 1.25 लाख पार कर चुका है। उन्होंने बताया कि हमारी सरकार पूरी पारदर्शिता के साथ श्रम विभाग की योजनाओं को श्रमिकों के पास पहुंचा रही है। वहीं श्रम विभाग कुशीनगर जनपद में 29 नवंबर को लगभग ढाई हजार श्रमिक परिवार के बच्चियों की शादी करने जा रहा है जिसमें ₹75 हजार शादी के दौरान श्रम विभाग श्रमिक के बच्चे की शादी में खर्च करेगी। जिसमें 65 हजार श्रमिक के खाते में वह 10 हजार में 5 हजार कन्या के परिधान के लिए और 5 हजार लड़के के परिधान के लिए तय किया गया है। आगे कैबिनेट मंत्री ने पत्रकारों से कहा की हम 26 नवंबर को अयोध्या में 4 हजार श्रमिक परिवार के बच्चियों की विवाह करने जा रहे हैं जिसमें स्वयं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शिरकत करेंगे और हम प्रयास करेंगे कि कुशीनगर में भी मुख्यमंत्री जी श्रमिकों के बच्चियों की विवाह में उपस्थित रहें।
प्रेस वार्ता के दौरान कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि श्रमिकों के बच्चों को पढ़ने के लिए अलग से विद्यालय की व्यवस्था किया गया है जिसमें प्रदेश सरकार ने कुल धन आवंटित कर श्रमिकों के बच्चों को पढ़ने के लिए 18 व्यवस्थित विद्यालय बनाने का कार्यक्रम विभाग कर रही है। इस विद्यालय को बनाने में लगभग 65 से ₹70 करोड़ रुपये खर्च हो रहा है जो पूरा प्रदेश सरकार वहन कर रही है। उन्होंने बताया कि श्रमिकों को अपने बच्चों को पढ़ाने के लिए और चिंता करने की जरूरत नहीं है। वह कहीं भी कमाए और उनके बच्चों को सरकार पढ़ाएगी। वही श्री मौर्य ने कहा कि विद्यालय का संचालन व सभी प्रकार की सुविधाएं श्रम विभाग करेगा। वर्तमान में श्रमिकों के बच्चों की शिक्षा पर उन्होंने बताया कि 9, 10, 11 और 12 में पढ़ने वाले या पास करने वाले विद्यार्थियों को साइकिल देने का भी कार्य श्रम विभाग कर रहा है वही और बच्चों को पढ़ने के लिए ड्रेस आदि खर्च के लिए प्राइमरी में ₹150, जूनियर में ₹200, हाई स्कूल में ₹250, स्नातक में ₹500, व परास्नातक करने वाले छात्रों को ₹1 हजार देने का कार्य श्रम विभाग कर रहा है। वहीं आगे उच्च स्तरीय शिक्षा प्राप्त करने वाले बच्चों का पूरा खर्च वहन करने का भी कार्य श्रम विभाग कर रहा है। इस दौरान कैबिनेट मंत्री के पीआरओ रामेश्वर कुशवाहा, मीडिया प्रभारी चिंटू शुक्ला, आर के मौर्या सहित आदि भाजपा नेता उपस्थित रहे।

About the author

Aditya Prakash Srivastva

Leave a Comment